script500 SMEs of the state on the verge of being closed or sick | coal shortage : कोयले की कमी: बंद या फिर बीमार होने की कगार पर प्रदेश के 500 से ज्यादा एसएमई | Patrika News

coal shortage : कोयले की कमी: बंद या फिर बीमार होने की कगार पर प्रदेश के 500 से ज्यादा एसएमई

एसईसीएल secl अपने कोयला उत्पादन के लक्ष्य को 30 करोड़ टन बढ़ाने की घोषणा कर चुका है, तालियां भी बज चुकी हैं। लेकिन जमीन पर जो स्थिति है वो दूसरी है। आलम यह है कि जहां कोयला चाहिए वहां कोयला नहीं मिल पाता, कोयला आधारित प्रदेश के लघु उद्योग small medium industry बंद या बीमार sick होने की स्थिति में पहुंच गए हैं।

बिलासपुर

Updated: March 07, 2022 12:55:02 am


- अक्टूबर नवंबर का कोयला अभी तक नहीं मिला
- उद्योग संघ ने एसईसीएल को लिखा पत्र, कहा बीमार होने से बचाएं

बिलासपुर. कोयला खनन का रिकार्ड, अधिकारियों को नेशनल इंटरनेशनल एवार्ड, डिस्पैच का रिकार्ड आदि से जब फुसर्त मिल जाए तो तो इस ओर भी गौर करने की जरूरत है कि कोयले की कमी के कारण प्रदेश के लगभग पांच सौ लघु उद्योग बंद या बीमार होने की कगार पर आ गए हैं। ये बात हम नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ लघु एवं सहायक उद्योग संघ की ओर एसईसीएल के चेयरमैन और एमडी को लिखा गया पत्र कह रहा है।
कोयले की कमी: बंद या फिर बीमार होने की कगार पर प्रदेश के 500 से ज्यादा एसएमई
कोयले की कमी: बंद या फिर बीमार होने की कगार पर प्रदेश के 500 से ज्यादा एसएमई

पत्र में साफ लिखा गया है कि कोयला आधारित लघु उद्योग बंद होने की कगार पर हैं, इन्हें बंद होने से एसईसीएल बचा ले। संघ ने पत्र में लिखा है कि कोयला आधारित एसएमई सेक्टर के उद्योगों को बचाने के लिए सार्थक पहल की जरूरत है। इसलिए हम अपनी परेशानी वाला ज्ञापन आपको सौंप रहे हैं।
काफी दिनों से नहीं दिया कोयला
संघ ने कहा है कि छत्तीसगढ़ शासन के उद्योग विभाग का सीएसआईडीसी राज्य के लघु उद्योगों को कोयले की सप्लाई के लिए स्टेट एजेंसी है। इसके ही माध्यम से एसईसीएल का कोयला उद्योगों में बंटता है। काफी दिनों से एसईसीएल द्वारा सीएसआईडीसी को कोयला नहीं दिया गया है। जबकि उन्होंने यानि एसईसीएल ने पैसा पहले ही जमा करवा लिया है। अब कोयले की कमी के कारण उद्योग प्रभावित हो रहे हैं।
a letter to secl chairman and managing director
IMAGE CREDIT: patrika bilaspur
प्रथमिकता वाला क्षेत्र है एसएमई
विदित हो कि एसएमई सेक्टर को भारत सरकार, राज्य सरकार सहित सभी विभागों की ओर से प्रथमिकता वाला क्षेत्र घोषित किया गया है। इन हालात में उद्योग संघ की ओर से यह मांग की गई है कि मानते हैं कि पावर सेक्टर आपकी प्रथमिकता है लेकिन बहुत कम कोयला की आवश्यकता वाले लघु उद्योगों को भी कोयले की सप्लाई की जानी चाहिए।
एक लाख टन का कारार, इसमें भी परेशानी
अब गौर करने वाली बात यह है कि लघु उद्योगों को इस वर्ष एक लाख टन कोयला देने का एग्रीमेंट है। बकायदा अक्टूबर नवंबर माह के लगभग १६ हजार टन के लिए पैसा जनवरी के आसपास जमा भी करवा लिया गया है लेकिन कोयला नहीं दिया गया है। उद्योग विभाग का कहना है कि एसईसीएल को अपने टर्म कंडिशन पर पैसा पहले चाहिए लेकिन जब सप्लाई की बात आती है तो टालमटोल होता है। एक लाख टन देना है अभी तक आधा भी नहीं दे सके हैं। मार्च भी अब शुरू हो गया है, इसके बाद वित्तीय वर्ष खत्म हो जाएगा।
कहते हैं अधिकारी
पिछली बार कोरोना के कारण एग्रीमेंट नहीं हुआ था। इस बार किया गया है, अक्टूबर नवंबर के लिए साढ़े सोलह हजार टन का पैसा साढ़े चार करोड़ जमा किया जा चुका है, दो बार पत्र भी लिखा गया है। कोयले की सप्लाई नहीं होने के कारण छोटे उद्योगों को परेशानी हो रही है।
एमएल कुशरे, सीएसआईडीसी
वर्जन
हमने एसईसीएल को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि छत्तीसगढ़ के कोयला उपभोक्ता लघु उद्योगों के प्रति सहानुभूति रखते हुए अविलंब सीएसआईडीसी को कोयला आबंटन का आदेश जारी किया जाए ताकि कोल संकट में फंसे लघु उद्योग इससे बाहर निकल सकें।
हरीश केडिया, प्रदेश अध्यक्ष, छग लघु एवं सहायक उद्योग संघ

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

जम्मू कश्मीरः बारामूला में जैश-ए-मोहम्मद के तीन पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीदDelhi News Live Updates: दिल्ली के वसंत कुंज इलाके में मिली महिला की सड़ी हुई लाश, जांच में जुटी पुलिससुप्रीम कोर्ट में पूजा स्थल कानून के खिलाफ दायर की गई याचिका, संवैधानिक वैधता को चुनौतीTexas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलरिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.