7 कोल डिपो में पुलिस का छापा, संचालक नहीं मिले तो कर दिया डिपो सील

रतनपुर पुलिस ने ५ व हिर्री पुलिस ने २ कोल डिपो किया सील, खनिज विभाग को भेजा जांच के लिए पत्र

By: Amil Shrivas

Published: 10 Feb 2018, 12:52 PM IST

बिलासपुर . रतनपुर व हिर्री पुलिस ने शुक्रवार को ७ कोल डिपो पर छापेमारी की। कोल डिपो संचालकों के नहीं मिलने पर डिपो सील कर दिया गया है। अमसेना कोल डिपो में हाल ये रहा कि पुलिस के पहुंचते ही ३ ट्रक छोड़कर उसके ड्राइवर भाग निकले। इधर बुटेना कोल डिपो में एक जेसीबी छोड़कर चालक फरार हो गया। पुलिस ने खनिज विभाग को डिपो की जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिए पत्र भेजा है। हिर्री पुलिस के अनुसार, शुक्रवार को पुलिस की दो टीमों ने ग्राम अमसेना स्थित कोल डिपो वाची ट्रेडर्स और ग्राम बुटेना स्थित अग्रवाल कोल ट्रेडिंग पर छापेमारी की। वाची कोल डिपो में कुछ कर्मचारी मिले जो ३ ट्रकों से कोयला खाली कर रहे थे। कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि कोल डिपो मुन्ना गोयल का है। पुलिस को देखकर ट्रक के चालक वाहन छोड़कर भाग गए। यहां से पुलिस ने ६०० टन कोयला जब्त किया। संचालक नहीं मिलने पर डिपो सील कर दिया गया। इसी प्रकार ग्राम बुटेना स्थित अग्रवाल कोल ट्रेडिंग में एक जेसीबी खड़ा मिला। मजदूरों ने पुलिस को बताया कि कोल डिपो भिलाई निवासी मुकेश गोयल का है। मुकेश ने अपने डिपो का आधा हिस्सा बिलासपुर निवासी हिमांशु गोयल को कोल डिपो चलाने के लिए दिया है। यहां पुलिस ने १२५ टन कोयला जब्त कर डिपो को सील कर दिया।

रतनपुर में ५ कोल डिपो सील: रतनपुर पुलिस ने शुक्रवार को ग्राम लिम्हा, बेलतरा, सांधीपारा, पेंडरवा और मोहतराई स्थित कोल डिपो में दबिश देकर उसे सील कर दिया। पुलिस की अलग-अलग टीमों ने एक साथ सभी कोल डिपो में दबिश दी। ग्राम लिम्हा स्थित जागेंद्र कोल डिपो में पुलिस ने एक महीने पूर्व छापेमारी की थी। इसे पुलिस ने सील कर दिया था, इसके बाद भी डिपो संचालक जागेन्द्र कश्यप सील तोड़कर फिर से डिपो चला रहा था। इसी तरह एक महीने पूर्व सील किए गए चकरभाठा निवासी ठाकुर दास कोटवानी के ग्राम पेंडरवा स्थित जगदम्बे कोल डिपो और ग्राम मोहतराई स्थित भाजपा नेता के बेटे रमाकांत मौर्य के कोल डिपो में दबिश दी। सभी कोल डिपो को पुलिस ने सील कर दिया है।

खनिज विभाग को भेजा पत्र: पुलिस ने ७ कोल डिपो को सील करने के बाद सूचना खनिज विभाग को दे दी है। पुलिस ने खनिज विभाग को पत्र भेजकर कोल डिपो की जांच कर प्रतिवेदन देने के लिए कहा है। साथ ही डिपो संचालकों को लाइसेंस और कोल डिपो के दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए नोटिस भेजा है।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned