रेलवे सांस्कृतिक भवन में फंसे 9 यात्रियों को भेजा गया बिहार, परिजन ले गए 28 बचे

तिरूनेलवेली एक्सप्रेस में बिलासपुर पहुंचे 165 से अधिक यात्रियों के घर वापसी का सिलसिला जारी है। बिहार से आकर फंसे करीब 9 लोगों को प्राइवेट कार से उनके परिजनों ने आरपीएफ से सम्पर्क कर अपने साथ ले गए। फंसे हुए लोगों में सेना का जवान भी था जिसे बिलासपुर में रह रहे उसके परिजन अपने साथ लेकर चले गए।

26 Mar 2020, 09:50 PM IST


बिलासपुर. तिरूनेलवेली एक्सप्रेस में बिलासपुर पहुंचे 165 से अधिक यात्रियों के घर वापसी का सिलसिला जारी है। बिहार से आकर फंसे करीब 9 लोगों को प्राइवेट कार से उनके परिजनों ने आरपीएफ से सम्पर्क कर अपने साथ ले गए। फंसे हुए लोगों में सेना का जवान भी था जिसे बिलासपुर में रह रहे उसके परिजन अपने साथ लेकर चले गए।

रेलवे सुरक्षा बल से मिली जानकारी के अनुसार तिरूनेलवेली एक्सप्रेस में बैग्लोर, केरल व अन्य जगह से बिलासपुर आकर फंसे यात्रियों को सुरक्षित रखने व सुरक्षित उनके घर पहुंचाने में रेलवे सुरक्षा बल के जवान व रेलवे प्रबंधन भी अपनी भूमिका लगातार निभाने में लगा हुआ है। यात्रियों से उनके परिजनों के नंबर लेकर सम्पर्क कर रेलवे सुरक्षा बल के जवान सभी को आश्वस्त करने में लगे हुए है। रेलवे सांस्कृतिक भवन में रुके 38 यात्रियों में से 10 लोगों को बुधवार रात व गुरुवार सुबह उनके परिजनों के साथ रवाना किया गया। रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने बताया कि बिहार से नीजी वाहन से बिहार निवासी यात्रिोयं के परिजन बिलासपुर पहुंचे थे। यहां सभी की जांच के बाद 9 यात्रियों को बिहार के लिए रवाना किया गया। बिहार निवासी सेना का जवान भी कैम्प में था रुपेश ने बिलासपुर स्थित अपने परिजनों से सम्पर्क साधा परिजनों को रुपेश के फंसे होने की जानकारी लगी तो वह भी रेलवे सांस्कृति भवन पहुंचे और रुपेश को अपने साथ लेकर घर चले गए।
फंसे हुए लोगो में बिहार, ओडिसा व उत्तरप्रदेश के यात्री

रेलवे सांस्कृतिक भवन में फंसे 28 यात्रियों में उत्तरप्रदेश, ओडिसा व बिहार के निवासी है। इन यात्रियों की दोनों टाइम स्वास्थ्य परिक्षण किया जा रहा है। जांच के दौरान अगर किसी पर भी कोरोना का संक्रमण पाया जाता है तो उसको उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग से भी लगातार सम्पर्क में रहने की बात सामने आ रही है।
परिजनों से सम्पर्क साधने की तैयारी

रेलवे सुरक्षा बल सेंटलमेंट प्रभारी डीके यादव ने बताया कि रेलवे सांस्कृतिक भवन में रह रहे लोगों के परिजनों से लगातार सम्पर्क किया जा रहा है। यात्रियों के परिजनों को आश्वस्त भी किया जा रहा है कि फंसे हुए लोगों में किसी प्रकार का संक्रमण नहीं है अगर अपने साधन से आकर यात्रियों को लेजाना चाहे तो आरपीएफ व रेलवे उनकी सहायता करेंगा।

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned