दो सेवा सहकारी समितियों समेत पांच दुकानों पर खाद बेचने पर रोक, सभी के लाइसेंस निलंबित किए गए

रेंडम जांच में पांच संस्थाओं व दुकानों में 13 किसानों ने 28 हजार से अधिक यूरिया खाद की खरीदी की थी। इन किसानों के पास खेती के लिए कोई जमीन नहीं है। इस जांच के बाद खाद बेचने वाले सभी विक्रेताओं को कारण बताओ नोटिस देकर जवाब मांगा गया था। लेकिन इनके जवाब संतोजनक नहीं थे।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 07 Sep 2020, 11:23 PM IST

बिलासपुर. दो सेवा सहकारी समितियों समेत पांच दुकानों को खाद बेचने पर रोक लगा दी गई है। इन सभी लोगों के लायसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। कृषि विभाग ने जिले के खाद बेचने वाले बीस सेवा सहकारी समितियों व दुकानोंं की जांच की थी। रेंडम जांच में पांच संस्थाओं व दुकानों में 13 किसानों ने 28 हजार से अधिक यूरिया खाद की खरीदी की थी। इन किसानों के पास खेती के लिए कोई जमीन नहीं है। इस जांच के बाद खाद बेचने वाले सभी विक्रेताओं को कारण बताओ नोटिस देकर जवाब मांगा गया था। लेकिन इनके जवाब संतोजनक नहीं थे।

इन पर रोक लगाई,निलंबित किए लायसेंस

कृषि विभाग ने जिन पांच खाद विक्रेताओं पर प्रतिबंध लगाया है। इनमें प्राथमिक सेवा सहकारी समिति कुआं, तखतपुर, प्राथमिक सेवा सहकारी समिति बिरकोना, बिल्हा शामिल है। इसी प्रकार अंसारी खाद भंडार तखतपुर, साईं कृषि सेवा केंद्र बेलपान, तखतपुर एवं बीज उत्पादक सहकारी समिति हरदी, बिल्हा को खाद बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इन सभी लोगों के लायसेंस निलंबित कर दिया गया है। उर्वरक गुण नियंत्रण आदेश 1985 के खंड 5 एवं 35 तथा खंड 31 के तहत यह कार्रवाई की गई है।

पांच डीलर्स के खाद लायसेंस निलंबित

जिले के पांच खाद डीलर्स के लायसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। नोटिस का जबाव संतोषजनक नहीं होने पर यह कार्रवाई की गई है।

-शशांक शिंदे, प्रभारी उपसंचालक कृषि,बिलासपुर

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned