रेत घाट की नीलामी को लेकर बड़ा हंगामा, चैम्बर छोड़कर निकल गए कलेक्टर

Saurabh Tiwari | Updated: 17 Sep 2019, 02:58:11 PM (IST) Bilaspur, Bilaspur, Chhattisgarh, India

bilaspur collector office बड़ी संख्या में कलेक्ट्रेट परिसर में जुटी है भीड़

बिलासपुर। सोमवार को जिले के रेत खदानों का ठेका लेने के लिए खनिज विभाग में दिनभर मजमा लगा रहा। भीड़ इतनी अधिक रही कि शाम 5.30 को दफ्तर की समयावधि समाप्त होने के बाद आवेदन करने वालों को कार्यालय के भीतर प्रवेश देकर ताला लगाना पड़ा । वहीँ मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में भीड़ इतनी बढ़ गई के कोलाहल के बीच कलेक्टर को अपना चैम्बर छोड़कर बाहर जाना पड़ा। (bilaspur collector office)

आपको बता दें की 17 रेत खदानों के लिए तीन सौ आवेदन जमा हुए। मंगलवार को मंथन सभाकक्ष में जिले के रेत खदानों के नीलामी सुबह 10.30 बजे प्रारंभ हो गई । इसके लिए चार कार्यपालिक दंडाधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिले के 9 समूह के 17 रेत खदानों की नीलामी करने के लिए आवेदन जमा करने की सोमवार को अंतिम दिन रहा। सोमवार को सुबह से ही रेत खदानों का ठेका लेने के लिए आवेदन करने वालों का दिनभर आमदरफ्त रहीं। शाम को जिला खनिज कार्यालय में आवेदन जमा करने वालों की लाइन लगी रहीं। इसके चलते शाम 5.30 बजे तक लाइन खत्म नहीं होने पर खनिज अधिकारियों ने सभी आवेदन जमा करने वालों को दफ्तर के अंदर करके गेट पर ताला लगाया गया। वही मंगलवार को परिसर में लोगों की काफी भीड़ देखि गई

रात 8 बजे तक जमा हुए फार्म
खनिज कार्यालय में रात आठ बजे तक ठेका फार्म जमा करने का सिलसिला जारी रहा। जिले के 17 रेत खदानों के लिए तीन सौ से अधिक लोगों ने आवेदन जमा कर चुके।

आज खुलेंगे लिफाफे
जिला स्तरीय समिति के समक्ष मंगलवार को रेत खदानों के लिफाफे खोले जाएंगे। अतिरिक्त कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला समिति का गठन किया गया है। इस समिति में राजस्व, वन,भू अभिलेख ,लोक निर्माण विभाग समेत अनेक विभागों के द्वितीय श्रेणी के अधिकारी सदस्य है।

चार कार्यपालिक दंडाधिकारियों की ड्यूटी
जिले के रेत खदानों की नीलामी की कार्यवाही मंगलवार को कलेक्टोरेट स्थित मंथन में की जाएगी। इस दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए चार कार्यपालिक दण्डाधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इनमें सिटी मजिस्ट्रेट एआर टंडन और डिप्टी कलेक्टर पंकज डाहिरे की ड्यूटी मंथन सभाकक्ष में होगी। तहसीलदार तुलाराम भारद्वाज की मंथन सभाकक्ष प्रवेश द्वार में और नायब तहसीलदार रामकुमार साहू की ड्यूटी कलेक्टोरेट प्रवेश द्वार में लगाई गई है। रेत खदानों की नीलामी सुबह 10 बजे से शुरू होगी।

9 समूह में 17 खदानें
समूह - तहसील - ग्राम पंचायत - रकबा हेक्टेयर में
बिलासपुर ए - कोटा - पहंदा - 4.75
————- - —- - कोनचरा - 4.60
बिलासपुर बी - ——— - सोढ़ाखुर्द - 1.98
————- - —— - रतखंडी - 3.00
बिलासपुर सी - तखतपुर - घुटकू - 3.00
बिलासपुर डी - बिलासपुर - लछनपुर - 4.90
———- - —— - सरकंडा - 4.86
बिलासपुर ई - ——- - मंगला - 2.025
बिलासपुर एफ - ——- - उरतुम - 1.82
————- - —— - चोरहादेवरी - 4.50
————- - —— - अकलतरी - 4.30
बिलासपुर जी - मस्तूरी - रहटाटज्ञेर - 4.80
————— - ——- - मनवा - 4.90
बिलासपुर एच - —- - कुकुरदीकेरा - 4.99
———— - —— - भिलौनी - 4.86
बिलासपुर आई - ——— - अमलडीहा - 4.09
—————- - ———— - उदईबंदा - 4.09

प्रत्येक समूह की निविदा शुल्क 10 हजार
रेत खदानों के प्रत्येक समूह की निविदा भरने के लिए 10-10 हजार रुपए शुल्क निर्धारित किया गया है।

सीलिंग प्राइस 90 रुपए
रेत खदान की उच्चतम निर्धारित मूल्य (सीलिंग प्राइस) 90 रुपए प्रति घनमीटर निर्धारित किया गया है।

377 आवेदन
जिले के नौ समूह के 17 रेत खदानों के लिए 377 निविदा आवेदन जमा किए गए है।
डीके मिश्रा, उपसंचालक, खनिज, बिलासपुर

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned