निगम कर्मियों ने दुकानदार को पीटा, डीएसपी से भिड़े पार्षद, कहा-नेता हूं तो नेतागीरी करूंगा

निगम कर्मियों ने दुकानदार को पीटा, डीएसपी से भिड़े पार्षद, कहा-नेता हूं तो नेतागीरी करूंगा
encrohment

Kajal Kiran Kashyap | Updated: 27 Nov 2016, 12:53:00 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

डीएसपी बोलीं, यहां नेतागीरी करने आए हो? इस पर पार्षद ने भी गरजकर जवाब दिया। पार्षद ने कहा, हां मैं नेता हूं, इसलिए नेतागीरी ही करुंगा।

बिलासपुर. शनिवार को मंगला चौक पर अतिक्रमण हटाने के दौरान हुए विवाद में निगम कर्मियों ने एक किराना दुकान संचालक की पिटाई कर दी। पार्षद अखिलेश चंद्रप्रदीप बाजपेयी ने इस विरोध किया तो यातायात डीएसपी से उनकी बहस हो गई। डीएसपी बोलीं, यहां नेतागीरी करने आए हो? इस पर पार्षद ने भी गरजकर जवाब दिया। पार्षद ने कहा, हां मैं नेता हूं, इसलिए नेतागीरी ही करुंगा। मामले को लेकर दोनों के बीच काफी देर तक  विवाद चलता रहा। इसके बाद निगम व पुलिस की संयुक्त टीम ने मुंगेली नाका और शेफर्ड स्कूल तक अतिक्रमण हटाने कार्रवाई की गई। वहीं मेन पोस्ट आफिस के आसपास लगे सभी ठेले जब्त कर लिए गए।

 यातायात पुलिस और नगर निगम के अतिक्रमण निवारण दस्ते ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए मंगला चौक, नर्मदा नगर चौक तक ताबड़तोड़ कार्रवाई की। दुकानों के सामने सड़क के दोनों ओर निकले छज्जे और टीन के शेड तोड़ दिए गए। वहीं नाले पर बनाए गए पक्के स्लैब और दुकानों के सामने बनाई गई सीढ़ी भी तोड़ दी गई। नर्मदा नगर रोड पर श्याम किराना स्टोर्स के सामान जब्ती के दौरान नगर निगम और किराना व्यावसायी के बीच विवाद हो गया। दुकानदार ने कर्मचारियों से दुव्र्यवहार दिया। इस पर निगम कर्मियों ने उसकी पिटाई कर दी। इस बात की जानकारी वार्ड क्रमांक एक के पार्षद अखिलेश चंद्रप्रदीप बाजपेयी को पता चला तो वे नगर निगम की कार्रवाई का विरोध करने पहुंचे। 

आयुक्तबोले, तीन फिट से ज्यादा छज्जा न निकालें: नगर निगम आयुक्त और गोलबाजार के व्यापारियों के बीच शनिवार को 12 बजे विकास भवन में बैठक हुई। आयुक्त ने व्यापारियों से कहा, दुकान के बाहर तीन फीट तक छज्जा निकाल सकते हैं। लेकिन इसमें किसी प्रकार का सामान नहीं लटकाया जाएगा। दुकान के बाहर सामान रखने पर सीधे जब्ती की कार्रवाई की जाएगी।

पूर्व सांसद के दुकान की सीढ़ी तोड़ी

मंगला चौक के पास पूर्व सांसद कमला मनहर कीगैस एजेंसी  के सामने लगी सीढ़ी भी निगम ने तोड़ दी। हालांकि बाद में समझ आया कि यह तो सड़क से काफी दूर है, तब निगम ने कार्रवाई रोक दी। इस कार्रवाई के लिए निगम को विरोध भी झेलना पड़ा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned