बिलासपुर डिवीजन ने एक महीने में अतिरिक्त लोडिंग कर कमाए पौने 8 करोड़ रुपए

- बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट (बीडीयू) में शामिल अधिकारी विभागीय (Bilaspur division) कार्यों के अलावा फैक्ट्री मालिकों, कंपनियों, छोटे व्यापारियों और वाणिज्यिक संगठनों से मीटिंग तथा संपर्क स्थापित करते हुए उन्हें रेलवे द्वारा दी जा रही रियायतों से अवगत करा रहे हैं और माल परिवहन के लिए प्रोत्साहित करते हुए अधिक लदान के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 16 Oct 2020, 12:45 AM IST

बिलासपुर. कोरोना काल में रेलवे द्वारा पार्सल स्पेशल ट्रेन के साथ मालगाडि़यों के माध्यम से पूरे देश में आश्वयक वस्तुओं की आपूर्ति की गई। बिलासपुर मंडल (Bilaspur division) ने सितंबर महीने में 1 लाख 7 हजार टन की अतिरिक्त लोडिंग कर पौने 8 करोड़ रुपए की अतिरिक्त आय अर्जित की। रेलवे के जरिए माल यातायात को बढ़ावा देने के लिए रेल मंत्रालय (रेलवे बोर्ड) द्वारा माल लदान से जुड़े व्यापारियों तथा आम लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए रियायत के साथ विभिन्न प्रोत्साहन योजनाएं लागू की गई हैं। इसके अलावा बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट (बीडीयू) का गठन किया गया है।

बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट (बीडीयू) में शामिल अधिकारी विभागीय कार्यों के अलावा फैक्ट्री मालिकों, कंपनियों, छोटे व्यापारियों और वाणिज्यिक संगठनों से मीटिंग तथा संपर्क स्थापित करते हुए उन्हें रेलवे द्वारा दी जा रही रियायतों से अवगत करा रहे हैं और माल परिवहन के लिए प्रोत्साहित करते हुए अधिक लदान के लिए प्रेरित कर रहे हैं। बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट के माध्यम से पारंपरिक लदान से हटकर कई नई वस्तुओं का रेल द्वारा परिवहन शुरू किया गया है।

बिलासपुर मण्डल (Bilaspur division) द्वारा बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट योजना के माध्यम से सितंबर महीने में 1 लाख 7 हजार 367 टन अतिरिक्त माल लोडिंग किया गया, जिससे मंडल द्वारा 7 करोड़ 75 लाख रुपए की अतिरिक्त आय अर्जित की गई। लोडिंग किए गए माल में 38 हजार 406 टन आयरनओर, 13 हजार 63 टन स्पंज आयरन, 16 हजार 164 टन आयरनओर फाइन, 4 हजार 50 टन लाइमस्टोन, 11 हजार 31 टन पिग आयरन, 4 हजार 974 टन स्टील, 09 हजार 713 टन गिट्टी, 3 हजार 881 टन शक्कर तथा 06 हजार 85 टन चावल शामिल हैं।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned