हॉलीवुड स्टाइल में सजा दरबार, अवतार फिल्म  की थीम पर बनी है मातेश्वरी की प्रतिमा

शहर के जूना बिलासपुर कतियापारा उदई चौक में अवतार फिल्म की तर्ज पर मां दुर्गा की प्रतिमा को तैयार करते हुए आकर्षक स्वरूप दिया गया है।

By: सूरज राजपूत

Published: 23 Oct 2015, 10:49 AM IST

बिलासपुर. शहर के जूना बिलासपुर कतियापारा उदई चौक में अवतार फिल्म की तर्ज पर मां दुर्गा की प्रतिमा को तैयार करते हुए आकर्षक स्वरूप दिया गया है। अवतार फिल्म की थीम पर ही पूरा पंडाल तैयार किया गया है, जो लोगों के आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है।

हर साल समिति की ओर से मूर्ति को ही अलग रूप देने का प्रयास किया जाता है। इस बार माता के अवतार रूप को देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु पंडाल पहुंच रहे हैं।

जय अम्बे दुर्गोत्सव समिति मां दुर्गा की खास प्रतिमा के लिए प्रसिद्ध है और इस साल भी लोग माता को अलग तरह का रूप दिया गया है।

समिति के सदस्य अनुनय सिंह (कुक्की ठाकुर) ने बताया कि पिछले 32 सालों से माता की प्रतिमा स्थापित करते हुए पूजन करते हैं। सजावट के साथ ही पंडाल भी माता के थीम के आधार पर ही तैयार किया जाता है।

इस बार अवतार फिल्म का थीम रखा गया है माता के साथ ही भगवान गणेश, मां सरस्वती व मां लक्ष्मी व कार्तिक भी अवतार वाले थीम के मुताबिक ही तैयार किए गए हैं, जिसे लोग काफी पसंद कर
रहे हैं।

इससे पहले माता को जंगल रूपी पंडाल में स्थापित करते हुए वाहवाही बटोर चुके है और इस साल भी माता की प्रतिमा को पसंद किया जा रहा है।

दुर्गोत्सव में खास तौर पर राणा ठाकुर, जानू कौशिक, आशीष यादव, अमृत यादव, पुष्कर साहू, ज्ञानी यादव, गोलू यादव, अंशु यादव, वैभव शुक्ला सहित समिति के सभी सदस्यों का सहयोग रहता है।

छत्तीसगढ़ी पैटर्न में होती है पूजा
मां दुर्गा की पूजा सभी बंगाली विधि से करते हैं लेकिन इस पंडाल में छत्तीसगढ़ी विधि से माता की पूजा की जाती है। भोग में भी छत्तीसगढ़ी पारंपरिक व्यंजन अर्पित किए जाते हैं। चार दिनों तक माता के दरबार में भक्तों को भोग का वितरण किया जाता है।

शुरुआत

दुर्गा पूजा शहर के हर क्षेत्र में आयोजित होने लगी थी तब उदई चौक कतियापारा के कुछ लोगों ने माता की प्रतिमा स्थापित करने का निर्णय लिया। छोटे से पंडाल में स्थापित करते हुए इसकी शुरुआत की और अब भव्य रूप में माता की प्रतिमा स्थापित की जा रही है।

मूर्ति रहती है आकर्षण का केन्द्र
समिति की ओर से दुर्गा पूजा विधिविधान से की जाती है, लेकिन खास आकर्षण का केन्द्र मूर्ति रहती है। अलग-अलग थीम पर हर साल माता की प्रतिमा रहती है।

इससे पहले जंगलो के बीच माता नजर आई, तो कभी झरने वाली थीम पर, कभी मां ज्वाला के रूप में इस तरह से कई रूप माता के भक्तों को दिखा चुके हैं। इस साल अवतार के थीम पर प्रतिमा को मूर्तिकार अमित सूत्रधर ने बनाया है।
(काजल किरण कश्यप)
Show More
सूरज राजपूत Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned