हाथ में लाठी लेकर घर पहुंचा पति और पत्नी से बोला- साढू का कत्ल करके आया हूं अब तेरी बारी

murdered: चरित्र शंका में साढ़ू को उतारा मौत के घाट, पत्नी बाल-बाल बची

By: Murari Soni

Published: 19 Mar 2020, 06:07 PM IST

बिलासपुर. कोटा थानांतर्गत ग्राम भरारी में बुधवार की रात चरित्र शंका में साढू को मौत के घाट उतारने के बाद पति ने पत्नी पर जानलेवा हमला किया। सास-ससुर ने कमरे में बंद कर बहू की जान बचाई। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है।

कोटा पुलिस के अनुसार ग्राम भरारी निवासी प्रदीप लहरे आटो चालक है। घर की परछी में दीवार उठाने के लिए उन्होंने मुंगेली जिले के पथरिया अंतर्गत ग्राम अमलडीहा में रहने वाले साढूू मालिक राम भार्गव ( 45)को कुछ दिनों पूर्व बुलवाया था। 14 मार्च को मालिकराम प्रदीप के घर आया था और घर में रह कर दीवार बना रहा था। बुधवार को सुबह प्रदीप आओ लेकर बिलासपुर चला गया था। घर में प्रदीप की पत्नी बिरझा बाई, मां धनमत लहरे, पिता सौखीलाल लहरे और साढू मालिकराम थे। बुधवार शाम 6 बजे प्रदीप वापस घर आया और साढू मालिकराम को घूमने जाने की बात कहकर घर से ले गया। उसने बस स्टैण्ड के पास ले जाकर मालिकराम पर रापा से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। बीच बाजार हुई घटना को देखकर ग्रामीण अपने-अपने घरों में घुस गए।

पत्नी से कहा, साढू को मारकर आया हूं अब तेरी बारी

करीब साढ़े 7 बजे प्रदीप लाठी लेकर घर पहुंचा। उसने मालिकराम की हत्या करने की बात कहते हुए पत्नी बिरझा बाई को जीता के साथ रंगरेलिया मनाने के लिए घर बुलवाने का आरोप लगाते हुए लाठी से हमला कर दिया। हमले में बिरझा बाई घायल हो गई। घर में मौजूद घनमत बाई और सौखीलाल ने बीच बचाव कर बिरझा बाई की जान बचाई और उसे कमरे में बंद कर दिया।

10 बजे पहुंची महिला ने दर्ज कराई एफआईआर

घटना के ढाई घंटे के बाद बिरझा बाई को सौखीलाल ने घर से बाहर निकाला। वह सीधे कोटा थाना पहुंची और घटना की जानकारी पुलिस कर्मियों को दी। पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मालिकराम के शव को मच्र्युरी भिजवाया। देर रात पुलिस ने प्रदीप को हिरासत में लिया। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है।

Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned