scriptCG Delivery on Floor: फर्श पर प्रसव मामले में हाई कोर्ट ने सरकार से पूछा – स्वास्थ्य पर इतना खर्च, फिर ये हाल क्यों? | CG Delivery on Floor: HC rebukes govt | Patrika News
बिलासपुर

CG Delivery on Floor: फर्श पर प्रसव मामले में हाई कोर्ट ने सरकार से पूछा – स्वास्थ्य पर इतना खर्च, फिर ये हाल क्यों?

CG Delivery on Floor: ‘डॉक्टर-नर्स गायब, फर्श का महिला का असहनीय पीड़ा के बीच प्रसव’ शीर्षक से प्रकाशित खबर पर कोर्ट ने संज्ञान लेकर सुनवाई शुरू की है।

बिलासपुरJun 11, 2024 / 01:26 pm

Shrishti Singh

CG Delivery on Floor

CG Delivery on Floor: अंबिकापुर में एक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर और नर्स गायब रहने के कारण महिला का फर्श पर प्रसव कराने के मामले में हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लिया है। सोमवार को सुनवाई के बाद कोर्ट ने स्वास्थ्य सचिव को शपथपत्र पर पूरी जानकारी देने के निर्देश दिए हैं।

इसके साथ चीफ जस्टिस की डिवीजन बेंच ने मुख्य सचिव (सीएस), स्वास्थ्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग संचालक, कलेक्टर सरगुजा के साथ सीएमओ अंबिकापुर, सिविल सर्जन अंबिकापुर और मेडिकल आफिसर नवानगर को भी नोटिस जारी किया है। ‘डॉक्टर-नर्स गायब, फर्श का महिला का असहनीय पीड़ा के बीच प्रसव’ शीर्षक से प्रकाशित खबर पर कोर्ट ने संज्ञान लेकर सुनवाई शुरू की है।

यह भी पढ़ें

CG Health: हीट वेव की वजह से ब्लड बैंक को नहीं मिल रहे डोनर, जरूरतमंद मरीज ढूंढते हैं रक्तदाता

अत्यंत खेदजनक स्थिति, कड़े कदम उठाए सरकार

हाईकोर्ट ने कहा कि यह बहुत खेदजनक स्थिति है। जब राज्य सरकार राज्य के दूरदराज के इलाकों में रहने वाली जनता को चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के लिए भारी मात्रा में धन खर्च कर रही है तो ऐसी स्थिति क्यों बन रही है। स्वास्थ्य केंद्रों के मामलों का प्रबंधन करने के लिए जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारी जरूरत पर उपलब्ध नहीं हैं। सरकार को कुछ कड़े कदम उठाने चाहिए।

CG Delivery on Floor: अंबिकापुर में बीएमओ पर गिरी गाज, निलंबित

सरगुजा जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवानगर में महिला का जमीन पर असुरक्षित प्रसव कराने के मामले में सीएमएचओ द्वारा एक स्टाफ नर्स को निलंबित करने के साथ ही एएनएम को हटा दिया गया था। अब इस मामले में जांच प्रतिवेदन के आधार पर राज्य सरकार ने बीएमओ डॉ. पीएन राजवाड़े को निलंबित कर दिया है।

जिला मुख्यालय से लगे नवानगर दरिमा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में 8 जून को डॉक्टर व नर्स के नही रहने पर गर्भवती महिला प्रियावती पैंकरा की मितानिन द्वारा फर्श पर डिलीवरी कराई गई थी। समुचित इलाज नहीं मिलने के कारण महिला को काफी पीड़ा झेलनी पड़ी। स्वास्थ्य केंद्र परिसर में फर्श पर प्रसव कराने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग एक्शन में आया और मामले की जांच सीएमएचओ द्वारा कराई गई।

अब इस मामले में जांच प्रतिवेदन के आधार पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के विशेष सचिव चंदन कुमार ने एक आदेश जारी कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भफौली के बीएमओ डॉ. पीएन राजवाडे को निलंबित कर दिया है। आदेश में उल्लेख किया गया है कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवानगर में प्रसव को लेकर अपनाए जाने वाले प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें

CG health system: अस्पताल से डॉक्टर व नर्स गायब, असहनीय पीड़ा के बीच फर्श पर महिला ने दिया बच्चे को जन्म


CG Delivery on Floor: क्या करेंगे बताएं, वीडियो भी प्रसारित होने से रोकें

सुनवाई के बाद डीबी ने सचिव, स्वास्थ्य और समाज कल्याण विभाग, रायपुर को निर्देश दिया है कि वे घटना के संबंध में उठाए गए कदमों के संबंध में अपना व्यक्तिगत हलफनामा दायर करें और सुनिश्चित करें जो वीडियो इस घटना का ऑनलाइन वायरल किया गया है, उसे आगे प्रसारित करने से भी तत्काल रोका जाए।

Hindi News/ Bilaspur / CG Delivery on Floor: फर्श पर प्रसव मामले में हाई कोर्ट ने सरकार से पूछा – स्वास्थ्य पर इतना खर्च, फिर ये हाल क्यों?

ट्रेंडिंग वीडियो