scriptCG Election Result : Counting of votes will be 14 tables assembly wise | CG Election Result : इस तरह सुबह 8 बजे से होगी मतगणना, तहसीलदार, पटवारियों का होगा ये काम, जानें पूरा सिस्टम | Patrika News

CG Election Result : इस तरह सुबह 8 बजे से होगी मतगणना, तहसीलदार, पटवारियों का होगा ये काम, जानें पूरा सिस्टम

locationबिलासपुरPublished: Nov 26, 2023 01:08:48 pm

CG Election Result 2023 : स्ट्रांग रूम से ईवीएम मशीनों को निकालने और रखवाने की जिम्मेदारी विधानसभावार संबंधित तहसीलदारों को दी गई है..

cg_election_percent.jpg
cg election result 2023 : विधानसभा चुनाव के लिए 3 दिसंबर को कोनी स्थित शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज परिसर होने वाली मतगणना में 500 अधिकारी तैनात रहेंगे। स्ट्रांग रूम से ईवीएम मशीनों को निकालने और रखवाने की जिम्मेदारी विधानसभावार संबंधित तहसीलदारों को दी गई है। (CG Election 2023)पटवारी और भृत्य मशीनों को स्ट्रांग रूम से टेबल तक लाने और लेजाने का काम करेंगे। मतगणना स्थल पर मोबाइल प्रतिबंधित रहेगा।

3 दिसंबर को होने वाली मतगणना सुबह 8 बजे से शुरू होगी। मतगणना स्थल पर मोबाइल पर पूरी तरह सेप्रतिबंध लगाया गया है। इसके साथ ही मतगणना में नियुक्त किए गए सुपरवाइजर, गणना सहायक एवं माइक्रो ऑब्जर्वर को सेजेस मल्टीपरपज दयालबंद में चुनाव प्रशिक्षण दिया गया।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अवनीश शरण के निर्देश पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अजय अग्रवाल ने मतगणना के दौरान किए जाने वाले दायित्वों की विस्तार से जानकारी प्रशिक्षण में दी। अग्रवाल ने प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि प्रशिक्षण में दी जा रही जानकारी को अच्छे से आत्मसात कर लें ताकि मतगणना कार्य में किसी प्रकार की त्रुटि न हो।
निर्वाचन आयोग के नियमों के तहत पूरी सतर्कता और मुस्तैदी से मतगणना का कार्य करने निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने निष्पक्ष व पारदर्शी मतगणना के लिए उपयोगी टिप्स भी दिए। मतगणना के संबंध में प्रमुख वैधानिक प्रावधानों, नियमों तथा मतगणना के दौरान कौन-कौन सी सावधानी बरती जानी है और इस दौरान कौन से प्रारूप में जानकारी देनी है।इसकी जानकारी दी गई।
मास्टर ट्रेनर एमटी आलम द्वारा मतगणना कार्य की संपूर्ण पहलुओं की विस्तार से जानकारी दी गई। मास्टर ट्रेनर द्वारा मतगणना के पूर्व की तैयारी, मानव संसाधन एवं अन्य जरूरी संसाधनों की व्यवस्था, डाकमत पत्रों की गणना सहित अन्य विषयों पर प्रकाश डाला गया। जिले में मतगणना का कार्य तकरीबन 500 अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा।

विधानसभा क्षेत्रों में 84 टेबलों में होगी गिनती
विधानसभावार 14 टेबलों में मतगणना की जाएगी। इस प्रकार कुल 6 विधानसभा क्षेत्रों के लिए मतों की गणना 84 टेबलों में की जाएगी। डाकमतपत्रों की गणना के लिए सभी 6 विधानसभा क्षेत्रों को मिलाकर कुल 17 टेबल लगाएं जाएंगे। मीडियाकर्मियों को केवल मतगणना स्थल पर बनाए गए मीडिया सेंटर तक ही मोबाइल ले जाने की अनुमति होगी।
राजपत्रित अधिकारी होंगे सुपरवाइजर
मतगणना स्थल पर प्रत्येक टेबल में राजपत्रित अधिकारी रेंज का एक सुपरवाइजर नियुक्त किया जाएगा। एक गणना सहायक और प्रत्येक टेबल में एक माइक्रो आब्जर्वर भी नियुक्त किए जाएंगे। मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए निर्धारित लोगों को अलग-अलग रंगों के परिचय पत्र जारी किए जाएंगे। इसी प्रकार ईटीपीबीएस के लिए विधानसभावार एक-एक टेबल अर्थात कुल 6 टेबलों में मतों की गणना की जाएगी।
पहले दिन विस और 3 दिसंबर को दी जाएगी टेबल की जानकारी
मतगणना तिथि के एक दिन पूर्व कर्मचारियों को विधानसभा क्षेत्र और मतगणना के दिन 3 दिसंबर को ही टेबल की जानकारी दी जाएगी। यह दोनों प्रक्रियाएं ऑब्जर्वर की मौजूदगी में रैण्डेमाइजेशन के जरिए होगी।
&मतगणना के लिए स्ट्रांग रूम से ईवीएम मशीनें तहसीलदारों की निगरानी में निकाली और रखी जाएंगी। टेबल तक पहुंचाने और वापस स्ट्रांग रूम तक लाने का काम पटवारी और भृत्य करेंगे। इस काम के लिए जरूरत पडऩे पर कोटवारों को तैनात किया जाएगा।
शिव बनर्जी, सहायक निर्वाचन अधिकारी

ट्रेंडिंग वीडियो