Video : सीएम ने तिफरा में किया छात्रावास का भूमिपूजन

Amil Shrivas | Publish: Sep, 05 2018 07:22:28 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

तखतपुर में एसडीएम कार्यालय खोलने की अपनी सहमति दे दी।

बिलासपुर. अटल विकास यात्रा के अंतर्गत आज छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हेलीकाप्टर द्वारा तखतपुर पहुंचे। वहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों को इस बार एक नवंबर से धान का बोनस मिल जाएगा। तखतपुर में एसडीएम कार्यालय न होने के कारण वहां के निवासियों को छोटे-मोटे कार्यों के लिए कोटा स्थित एसडीएम कार्यालय जाना पड़ता है। जिसकी मांग तखतपुर विधायक राजू क्षत्री ने मुख्यमंत्री से की। तखतपुर में एसडीएम कार्यालय खोलने की अपनी सहमति दे दी। कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री का काफिला बिलासपुर के लिए रवाना हुआ।
READ MORE : 16 दिनों में 230 लोगों की जांच, 64 मिले डेंगू से पीडि़त, हर रोज भर्ती हो रहे है 4 मरीज

मुख्यमंत्री ने 272 करोड़ रुपये की लागत से 81 विकास कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इसमे 178 करोड़ रुपये के 32 कार्यो का भूमिपूजन एवं 92 करोड़ रुपये के 49 कार्यो का लोकार्पण शामिल है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत प्रदेश में 2 लाख 80 हजार पक्के मकान बन चुके हैं। 2022 तक छत्तीसगढ़ के सभी लोगो का पक्का मकान होगा। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में 19 लाख परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन और चूल्हा प्रदान किया गया है। धान खरीदी के साथ समर्थन मूल्य एवं बोनस का भुगतान एक साथ किया जाएगा। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने धान का के समर्थन मूल्य में प्रति क्विंटल 200 रुपये की वृद्धि की और राज्य शासन द्वारा प्रति क्विंटल 300 रुपये बोनस दिया जाएगा। किसानों को 2400 करोड़ रु का धान बोनस देने बजट पास करने 11 एवं 12 सितंबर को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है। हर व्यक्ति को महसूस होता है कि सरकार सबके लिए काम कर रही है। आयुष्मना भारत योजना के तहत 37 लाख परिवारों को गंभीर बीमारियों के ईलाज के लिए 5 लाख रुपये की मदद दी जाएगी।। किसानों को 5 एचपी के एक से अधिक कृषि सिंचाई पंपो पर फ्लेट रेट पर ही बिजली बिल के भुगतान की सुविधा।
READ MORE : धान खरीदी के साथ-साथ किसानों को मिलेगा बोनस : मुख्यमंत्री

तखतपुर-मुंगेली-बिलासपुर रोड होगी 10 मीटर चौड़ी : तखतपुर में सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि-तखतपुर-मुंगेली-बिलासपुर नेशनल हाइव 10 मीटर चौड़ी बनेगी। वहीं महाविद्यालय को स्नातकोत्तर बनाने की मांग छात्रों ने की है। जिस पर मुख्यमंत्री ने अपनी सहमति दी है। वहीं तखतपुर विधायक राजू क्षत्री ने एसडीएम कार्यालय खोलने मांग की थी जिस मुख्यमंत्री ने जल्द खोलने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री अपने निर्धरित समय से एक घंटे देर से पहुंचे। वहां पर रिमझिम बारिश हो रही थी। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर भारी कीचड़ थी। हालांकि उसे मुरुम गिट्टी डालकर समतल करने का प्रयास किया गया। लेकिन बारिश अधिक होने के कारण लोगों का पैर जमीन पर धंस रहा था। लोग एक दूसरे को पकड़कर मुख्यमंत्री का संबोधन सुनरहे थे। बावूजद इसके ग्रामीण जन उनकी सभा में शामिल हुए।

READ MORE : पुनिया बोले पहले पता होता तो नहीं बनाते, अब करेंगे कार्रवाई

Ad Block is Banned