पहली खेप में 95 सौ लोगों को दी जाएगी कोरोना वैक्सीन, 5 सौ कर्मचारियों की लगेगी ड्यूटी

इन लोगों को टीका लगाने के लिए एक वेक्सीनेटर और एक सहायक को मिलाकर कुल 500 कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी गई है, दूसरे चरण में 45 से 60 के वृद्धों को लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयारी पूर्ण कर ली गई है। कोरोना वैक्सीन टीका भी जल्द मिलने की संभावना है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 16 Dec 2020, 04:35 PM IST

बिलासपुर. कोरोना का वैक्सीन सबसे पहले सरकारी कर्मचारियों को लगाया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने 9500 कर्मचारियों की पहचान कर ली है जिसमें सरकारी- गैरसरकारी अस्पतालों के डॉक्टर, नर्स, लैब टेक्नीशियन, मेडिकल स्टॉफ, हेल्थ वर्कर, सफाई कर्मी, सर्वे कर रही टीमों के सदस्य जिनमें मितानिन और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं।

इन लोगों को टीका लगाने के लिए एक वेक्सीनेटर और एक सहायक को मिलाकर कुल 500 कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी गई है, दूसरे चरण में 45 से 60 के वृद्धों को लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयारी पूर्ण कर ली गई है। कोरोना वैक्सीन टीका भी जल्द मिलने की संभावना है।

स्वास्थ्य विभाग ने यह भी तय कर लिया है कि वैक्सीन पहले किसे लगाया जाएगा। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. मनोज सैम्यूअल ने बताया कि पहली खेप में 45 हजार वैक्सीन मिलेगा। वैक्सीन जैसे ही मिलेगी, सबसे पहले उन लोगों को लगाई जाएगी, जो कोरोना के खतरे के बीच काम कर रहे हैं, ऐसे 9500 सरकारी कर्मचारी की पहचान कर ली गई है।

डॉक्टर सैम्यूअल ने बताया सरकारी-गैरसरकारी अस्पतालों के डॉक्टर, नर्स, लैब टेक्नीशियन, मेडिकल स्टॉफ, हेल्थ वर्कर, सफाई कर्मी, सर्वे कर रही टीमों के सदस्य जिनमें मितानिन और आंगनबाड़ी कार्यकताओ को पहले लगाया जाएगा। इनको टीका लगाने के लिए एक वेक्सीनेटर और एक सहायक को मिलाकर 500 कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी गई है।

वैक्सीन आने से पहले इन्हें ट्रेंड कर दिया जाएगा। इस वर्ग के पूरा होने के बाद ऐसे लोगों पर फोकस करेगा जो 45 से 60 की उम्र के हैं और उन्हें बीपी, शुगर, अस्थमा या कोई और गंभीर परेशानी है। दरअसल कोरोना में मरने वाले अधिकांश लोग इसी वर्ग से हैं।

8 डिग्री तापमान में रखेंगे

वैक्सीन प्लस 2 से 8 डिग्री सेल्सियस में रखी जा सकेगी। इसके बाद 25 कोल्ड चेन सेंटरों में इसे भेजा जाएगा। फिर किसे लगना है यहां से भेजना शुरू होगा। जिला स्तर और गांवों तक वैक्सीन कैसे लगाई जाएंगी। इसकी मॉनिटरिग के लिए एक कमेटी बनाई जाएगी।

यहां लगेगा मिनी कोल्ड चेन सेंटर

स्वास्थ्य विभाग के पास 5 लाख वैक्सीन रखने की क्षमता वाला सेंट्रल कोल्ड स्टोरेज ड्रग वेयर हाउस है। साथ ही ब्लॉक में भी बड़ी क्षमता वाले मीडियम स्केल वाले कोल्ड चेन प्वाइंट हैं। हाल ही में सात नए कोल्ड चेन को शासन ने मंजूरी दे दी है। वर्तमान में 25 सब कोल्ड चेन सेंटर हैं जहां, जहां वैक्सीन के रखने की हो चुकी है। आठ के मंजूर होते ही संख्या 33 हो जाएगी।

लखराम, देवरीखुर्द, सिरगिट्टी, तिफरा यदुनंदन नगर, लिगियाडीह, करगीकला, टेंगनमाड़ा केंदा, चपोरा, जोंधरा, जयरामनगर, खम्हरिया, मूछ, दैजा और सकरी सहित कुल 15 जगहों में मिनी कोल्ड चेन सेंटरों के नाम भेजे थे। सात को मंजूरी मिल चुकी है। आठ और मंजूर होने की संभावना है।

इसके अलावा गांधी चौक, राजकिशोर, बंधवापारा, जिला अस्पताल, सिम्स, कोटा, रतननुर, तखतपुर, मस्तूरी, बिल्हा, पाली, अमसेना, बेलतरा, पचपेड़ी ,सीपत, गनियारी, बेलगहना, केंदा सहित 18 पुराने सब कोल्ड चेन स्टोरेज सेंटर हैं। यहां भी वैक्सीन रखी जाएगी।

Show More
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned