कोरोना मरीज को भर्ती नहीं लेने वाले अस्पताल पर कार्रवाई शुरू, एक को नोटिस

वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus outbreak in Bilaspur) के मरीजों को भर्ती करने को लेकर जिले के निजी अस्पताल और नर्सिंग होम रुचि नहीं दिखा रहे हैं जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग अब कार्रवाई के मूड में है।

By: Ashish Gupta

Published: 05 Sep 2020, 09:28 PM IST

बिलासपुर. वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus outbreak in Bilaspur) के मरीजों को भर्ती करने को लेकर जिले के निजी अस्पताल और नर्सिंग होम रुचि नहीं दिखा रहे हैं जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग अब कार्रवाई के मूड में है। बिलासपुर सीएमएचओ डॉ प्रमोद महाजन के निर्देश पर वैश्विक महामारी की विपरीत परिस्थितियों में सहयोग नहीं करने वाले मुनाफाखोरी करने वाले हॉस्पिटलों की कुंडली तैयार की जा रही है जिसमें मनमर्जी करने वाले हॉस्पिटल प्रबंधन पर सीधे मान्यता खत्म करने की गाज गिरेगी जिसकी शुरुआत कर दी गई है।

रोड स्वर्ण जयंती नगर स्थित 100 बिस्तरों वाले आर बी अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग ने लाइसेन्स निरस्तीकरण का नोटिस भेजा है। या यूं कहें जिले के सभी निजी हॉस्पिटल प्रबंधन को आगाह किया है कि वह समय रहते स्वास्थ्य विभाग का सहयोग कोविड मरीजों के इलाज के लिए करें, नहीं तो उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि पूर्व में जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों के उचित प्रबंधन के लिए एक सितंबर को जिला प्रशासन के नेतृत्व में जिले के सभी निजी हॉस्पिटल प्रबंधकों की बैठक आयोजित की गई थी जिसमें निजी अस्पतालों में कोविड-19 के मरीजों की भर्ती और उपचार करने के निर्देश दिए गए थे। जिस आदेश को निजी हॉस्पिटलों ने धता साबित करते हुए कोई उचित जवाब नहीं दिया था।

लिहाजा अब जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इस मसले को लेकर एक्शन के मोड में आ गए हैं। उन्होंने आरबी हॉस्पिटल प्रबंधन को नोटिस जारी कर 30 दिनों के अंदर उनकी मान्यता खत्म करने की अनुशंसा की है। अगर इस समय अवधि के अंदर आरबी हॉस्पिटल में कोविड मरीजों के इलाज की सुविधा उपलब्ध नहीं हो सकी तो निश्चित रूप से हॉस्पिटल की मान्यता खत्म कर दी जाएगी।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned