कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय ने सदन में मामला उठाते हुए कहा कि चीन से आई पिचकारी और अन्य सामानों से वायरस फैलने की है संभावना

coronavirus update in chhattisgarh: करोना वायरस का मामला सदन में उठा

By: Murari Soni

Published: 07 Mar 2020, 12:22 PM IST

बिलासपुर. शुक्रवार को विधान सभा में भी कोरोना वायरस का मामला उठा। ध्यानाकर्षण के जरिये कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय ने मामला उठाते हुए कहा कि चीन से आयातित सामानों से होली के समय पिचकारी और अन्य सामानों से वायरस फैलने की संभावना है। कोरोना वायरस से दुनिया में 31 सौ लोगों की मौतें हो चुकी हैं। संक्रमण फैलने वाला है। मरीज और बुजुर्ग ज्यादा खतरा है। रायपुर में 4 संदिग्ध मरीज मिले हैं।

जवाब में मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि 60 साल से अधिक उम्र के लोगों में संक्रमण सबसे ज्यादा हो सकता है। गर्भवती महिलाएं और बच्चों को खतरा हो सकता है। इम्यून सिस्टम जिनका कमजोर है, वो प्रभावित हो सकते हैं। प्रभावित लोगों के मृत्यु का प्रतिशत केवल 2.3 ही है। छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना वायरस के लक्षण की पहचान के लिए प्रोटोकॉल तय कर लिया गया है। रायपुर एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन में एडवाइजरी बोर्ड लगाया गया है। राज्य, जिले स्तर पर रैपिड रिस्पॉन्स टीम की तैनाती कर दी गई है। हॉस्पिटल्स में आइसोलेशन की व्यवस्था की गई है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पहले चीन का नाम आया। अब 78 देशों से पीडि़तों की जानकारी सामने आ रही है। ये प्रोटोकॉल पहले ही केंद्र ने जारी कर दिया गया था कि कोई भी व्यक्ति यदि दूसरे देशों से आ रहा है तो इसकी सूचना दे दी जाए। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना को लेकर विस्तृत तैयारी कर रखी है। ये मन में नहीं रखना चाहिए कि कोई भी वस्तु यदि चीन से आ रही है, तो वह संक्रमित हो सकती है। यदि सदन चाहेगा तो होली खेलने से जुड़ी

एडवाइजरी जारी कर देंगे। सिंहदेव ने कहा मुख्यमंत्री और स्पीकर को लेकर भी ये पत्रकारों ने सवाल उठाया कि अमेरिका से लौटे हैं क्या उन्हें भी जांच करानी चाहिए क्या संक्रमण का खतरा है। इस पर मैंने कहा कि वायरस 12 घंटे तक ही जीवित रहता है। इसकी जरूरत अब नहीं है लेकिन सामान्य तौर पर भी यदि सर्दी-जुकाम है तो सामान्य जांच करानी चाहिए।

Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned