कोरोना के कारण मुकदमों पर भी असर, हाईकोर्ट में लग रहे सिर्फ जरूरी मामले

कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic Effect) ने हाईकोर्ट (Bilaspur High Court) के कामकाज पर भी गहरा असर डाला है। बीमारी के दुष्प्रभाव को ध्यान में रखते हुए 24 मार्च से न्यायालयीन प्रक्रिया भी प्रभावित हुई है।

By: Ashish Gupta

Updated: 26 Jun 2020, 06:11 PM IST

बिलासपुर. कोरोना महामारी (Covid-19 pandemic effect) ने हाईकोर्ट (Bilaspur High Court) के कामकाज पर भी गहरा असर डाला है। बीमारी के दुष्प्रभाव को ध्यान में रखते हुए 24 मार्च से न्यायालयीन प्रक्रिया भी प्रभावित हुई है। जमानती, सर्विस सहित अर्जेंट प्रकृति के मामले ही सुने जा रहे हैं। 30 जून के बाद स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है।

कोरोना के कारण हाईकोर्ट में भी 24 मार्च से ही एहतियात बरती जा रही है। वकीलों व मुवक्किलों के जमाव से संक्रमण का खतरा था। परिणाम स्वरूप नियमित सुनवाई नहीं हो पा रही। किंतु जमानत प्रकरणों सहित अन्य सभी आवश्यक प्रकरण वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुने जा रहे हैं।

मामलों की फाइलिंग ई-प्रक्रिया से
इन दिनों, प्रकरणों की फाइलिंग भी ई-फाइलिंग प्रक्रिया के तहत हो रही है। इसमें याचिका की मूल प्रति के साथ पेन ड्राइव में कॉपी प्रस्तुत करना अनिवार्य है। किंतु कोर्ट फीस तथा मूल दस्तावेजों को कोर्ट खुल जाने पर 72 घंटों के भीतर न्यायालय में प्रस्तुत करना अनिवार्य किया गया है।

ज्यादातर सिंगल बेंच ही
कुल संवैधानिक या नीतिगत प्रकरण पर सुनवाई अभी नहीं हो पा रही है। इसके मद्देनजर ज्यादातर सिंगल बेंच भी गठित की जा रही है। हर बेंच में औसतन 40 से 50 मामले रोज लिस्ट हो रहे हैं। अधिकतर क्रिमिनल या सर्विस मैटर है।

वकीलों के कामकाज पर असर
सुरक्षा के लिहाज से यह व्यवस्था कारगर है। हालांकि वकीलों के कामकाज पर लॉकडाउन में असर पड़ा है। पुराने और स्थापित वकीलों से ज्यादा नए वकीलों को दिक्कत है। वकील प्रकाश तिवारी का कहना है कि ऑनलाइन सुनवाई में भी बेहतर काम हो रहा है। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सीके केसरवानी का कहना है कि नियमित कामकाज शुरू होने पर ही वकीलों को राहत मिल पाएगी। ऑनलाइन सुनवाई में नेटवर्क समस्या अक्सर आड़े आती है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned