रहस्यमय तरीके से 8.30 लाख रुपए गायब वाले मामले में 3 ब्रांच मैनेजर समेत 9 लोगों के खिलाफ विभागीय जांच शुरू

- जिला केंद्रीय सहकारी बैंक से चार खातेदारों के 8.30 लाख रहस्यमय तरीके से गायब होने का मामला,जांच नोटिस में सभी का एक ही जवाब।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 10 Aug 2020, 07:26 PM IST

बिलासपुर . चार खातेदारों के 8.30 लाख रुपए रहस्यमय तरीके से गायब होने के मामले की अब विभागीय जांच शुरू हो गई है। एक निलंबित समेत 3 ब्रांच मैनेजर एवं 6 कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस दिया गया था। सभी लोगों ने अमूमन एक समान जवाब दिया है।

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के मुख्य शाखा से चार खातेदारों के खाते से लाखों रुपए का आहरण हो गया। इनमें से तीन खातेदारों ने न तो कभी बैंक से एटीएम जारी कराया और न ही उसका उपयोग किया। इसके बावजूद इनके खातों से लाखों रुपए एटीएम से आहरण हो गया है। इसमें सकरी निवासी रामकुमार कौशिक का सबसे अधिक 5.75 लाख रुपए एटीएम से एक माह के भीतर निकाला गया। इसी प्रकार संबलपुरी के ठाकुर राम साहू के खाते से 1.660 रुपए, शिवकुमार साहू के खाते से 60 हजार रुपए तथा एक अन्य व्यक्ति के खाते से 55 हजार रुपए आहरित की गई है।

नोटिस का एक सा जवाब
इस मामले को लेकर जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की निलंबित ब्रांच मैनेजर रंजना पांडेय, ब्रांच मैनेजर अभिषेक शर्मा, वीरेंद्र टंडन समेत 6 अन्य कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। इन सभी लोगों ने अलग-अलग नोटिस का जवाब दिया है। लेकिन इन सभी के जवाब एक समान है। ब्रांच मैनेजर व कर्मियों ने कहा कि हमारी गलती नहीं है, मैं निर्दोष हूं, मेरी जानकारी में नहीं है आदि शब्दों-वाक्यों का जवाब में इस्तेमाल किया गया है।

अपेक्स बैंक की टीम भी आई थी जांच करने
बैंक में गफलत को लेकर अपेक्स बैंक की तीन सदस्यीय जांच टीम करने आई थी। यह टीम जांच करके लौट गई लेकिन दोषी कौन है, इसका अब तक पता नहीं चला है।

विभागीय जांच शुरू
तीन ब्रांच मैनेजर और 6 अन्य कर्मचारियों के खिलाफ अब विभागीय जांच शुरू की गई है। जांच में दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।
श्रीकांत चंद्राकर, सीईओ,जेएसकेबी,बिलासपुर

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned