कुत्ते ने सुलझाई 4 लाख के चोरी की गुत्थी, पेट्रोल पंप का मैनेजर निकला चोर, दो नाबालिगों संग रची थी साजिश

Bilaspur Crime News: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के पचपेड़ी में 18 जुलाई की रात मस्तूरी-जोन्धरा मार्ग में स्थित लीलागर फ्यूल्स में हुई चार लाख की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने मामले में मैनेजर को गिरफ्तार किया है।

By: Ashish Gupta

Updated: 23 Jul 2021, 02:10 PM IST

बिलासपुर. Bilaspur Crime News: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के पचपेड़ी में 18 जुलाई की रात मस्तूरी-जोन्धरा मार्ग में स्थित लीलागर फ्यूल्स में हुई चार लाख की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने मामले में मैनेजर को गिरफ्तार किया है। साथ ही चोरी में सहयोगी रहे दो नाबालिगों को भी अभिरक्षा में लिया है। पुलिस ने आरोपी से 2 लाख 83 हजार रुपए जब्त किए है। चोरी की गुत्थी को सुलझाने में डॉग रोजी की विशेष भूमिका रही है, क्योंकि चोरी के दिन ही रोजी ने मैनेजर के घर जाकर उसके चोरी में शामिल होने की पुष्टी कर दी थी।

मामले का खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी ग्रामीण रोहित झा ने बताया कि सरकंडा रामा ग्रीन सिटी निवासी अमित तिवारी की पत्नी श्वेता तिवारी के नाम से मस्तूरी जोन्धरा मार्ग में लीलागर फ्यूल्स है। पेट्रोल पम्प में शिवरीनारायण कुरियारी निवासी अभिषेक शर्मा मैनेजर है। 18 जुलाई को मैनेजर अभिषेक शर्मा व अन्य कर्मचारी ड्यूटी पर थे।

यह भी पढ़ें: दो युवकों ने प्यार के बाद की समलैंगिक शादी, अब एक ने लगाया दूसरे पर दुष्कर्म का आरोप

सुबह 5 से सवा 5 बजे के बीच डीजल व पेट्रोल बेचकर लॉकर में रखे 4 लाख किसी ने पार कर दिया था। मामले की जांच के दौरान पुलिस को पहला सुराग मिला जब पुलिस से स्निफर डॉग रोजी अपने ट्रेनर राम मिलन के साथ पेट्रोल पंप पहुंची व सूंघ कर सीधे मैनेजर अभिषेक शर्मा के घर घुस गई व उसका हाथ पकड़ कर उसके वारदात में शामिल होने का संकेत दे दिया था।

पुलिस के शक की सुई पेट्रोल पंप मैनेजर अभिषेक शर्मा पर आकर ठहर गई। हिरासत में लेकर पुलिस ने जब पूछताछ शुरू की पहले तो मैनेजर टालमटोल कर गुमराह करता रहा लेकिन सख्ती बरतने पर पुलिस के सामने मैनेजर ने दो नाबालिगों के साथ मिलकर 4 लाख रुपए चोरी करने की वारदात को स्वीकर कर लिया। पुलिस ने अभिषेक शर्मा से चोरी गए 4 लाख रुपए में से 2 लाख 83 हजार 5 सौ रुपए बरामद कर मामले का खुलासा किया है।

यह भी पढ़ें: घरवालों ने मोबाइल पर गेम खेलने से मना किया तो 13 साल के बच्चे ने फांसी लगाकर दे दी जान

महमंद किशोरी बलात्कार हत्या कांड में डॉग की रही अहम भूमिका
डॉग रोजी ने पूर्व में बहुचर्चित महमंद में हुई अंधे कत्ल व बलात्कार की गुत्थी को सुझाने में तोरवा पुलिस की काफी मदद की थी। रोजी ने घटना स्थल पर ही एक आरोपी का हाथ पकड़ लिया था व उसके घर तक पहुंच गई थी।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned