नशे में आरक्षक ने एसआई से की हाथापाई, चौकी में तोडफ़ोड़ करने के बाद कपड़े उतार कर किया ड्रामा

बीच बचाव करने पहुंचे 1 आरक्षक से उसने मारपीट की और चौकी में जमकर तोडफ़ोड़ की। आरक्षक ने चौकी में अपने कपड़े उतार दिए। यह सब देखकर महिला आरक्षक वहां से भाग गईं। पुलिस कर्मियों ने उसे पकड़कर मुलाहिजा कराया। मामले में उसके खिलाफ एसआई ने रोजनामचे में रिपोर्ट दर्ज की है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 23 Aug 2020, 02:04 PM IST

बिलासपुर. मंगला चौक स्थित यातायात पुलिस चौकी में पदस्थ आरक्षक ने शनिवार को नशे में छुट्टी में होने के बाद भी सड़क पर राहगीरों से बदसलूकी करते हुए विवाद किया। विरोध करने पर आरक्षक ने थाने के एसआई से बदसलूकी और हाथापाई की। बीच बचाव करने पहुंचे 1 आरक्षक से उसने मारपीट की और चौकी में जमकर तोडफ़ोड़ की। आरक्षक ने चौकी में अपने कपड़े उतार दिए। यह सब देखकर महिला आरक्षक वहां से भाग गईं। पुलिस कर्मियों ने उसे पकड़कर मुलाहिजा कराया। मामले में उसके खिलाफ एसआई ने रोजनामचे में रिपोर्ट दर्ज की है।

पुलिस के अनुसार यातायात थाना मंगला चौक में पदस्थ आरक्षक मुकेश दुबे शनिवार को दोपहर १बजे सिविल ड्रेस में मंगला चौक पहुंचा। मंगला चौक से उसलापुर की ओर जा रहे सरकंडा निवासी हितेश साहू और राहुल पाठक की बाइक की चाबी चलती गाड़ी से निकाल ली। दोनों बाइक से गिरने से बचे। दोनों से मुकेश ने सड़क पर जमकर विवाद किया और बाद में बाइक की चाबी चौकी के अंदर टेबल में रखकर दोनों युवकों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एसआई हरीशचंद ठाकुर से ऊंची आवाज में बात करने लगा।

छुट्टी पर होने के बाद भी वाहन रुकवाने की बात पर की हाथापाई

चौकी में एसआई ठाकुर ने मुकेश को दो दिनों से अवकाश पर होने के बाद भी सिविल ड्रेस में चौकी के सामने वाहन रोकवाने का विरोध करते हुए दोबारा वाहनों को रोकवाने से मना करते हुए घर जाने के लिए कहा। इस बात पर वह एसआई ठाकुर पर भड़क गया और हाथापाई करने लगा। पास खड़े आरक्षक यशवंत ने उसे समझाने का प्रयास किया तो उसने यशवंत से भी धक्कामुक्की और हाथापाई की। उसने चौकी में लगे कांच को हाथ से तोड़ दिया। साथ ही टेबल कुर्सियों को पलटा दिया।

खून से लथपथ हो गई चौकी, कपड़े उतारकर चौकी में बैठ गया

तोडफ़ोड़ के कारण मुकेश के हाथ और शरीर में चोट लगी थी। वह खून से लथपथ हो गया और चौकी के चारों आेर खून फैल गया। वह नशे में अपने कपड़े उतारने लगा। यह सब देखकर चौकी में मौजूद महिला आरक्षक वहां से भाग गईं।

हुआ मुलाहिजा, दर्ज की रोजनामचा रिपोर्ट

कर्मचारियों ने घटना की सूचना ट्रैफिक डीएसपी सत्येन्द्र पांडेय को दी। डीएसपी पांडेय मौके पर पहुंचे और आरक्षक को दूसरी पेट्रोलिंग से सिविल लाइन थाना ले गए। यहां पुलिस ने उसका मुलाहिजा कराया। उधर एसआई हरीश चंद ने मुकेश के खिलाफ रोजनामचे में रिपोर्ट दर्ज की है।

5 साल पहले भी वेंडरों के ठेलों को पलटाया था

करीब ५ वर्ष पूर्व मुकेशने मिशन अस्पताल रोड पर वेंडरों से विवादकरते हुए करीब आधा दर्जन वेंडरों के ठेलों को पलटा दिया था। उसने पत्नी और बच्चों को नशे में घर से बाहर निकाल दिया था। उस समय भी पुलिस अधिकारियों ने उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की और उसे समझाइश देकर छोड़ दिया था।

चौकी को पानी से धोकर किया साफ

चौकी के चारों ओर लगे कांच को तोडऩे से मुकेश घायल हो गया था। उसने ब्लेड से अपने हाथ को भी काटा था। चौकी के टेबल कुर्सी और फर्श पर खून फैला था। मुकेश को मुलाहिजा करने के लिए भेजने के बाद चौकी के आरक्षकों ने लोगों की मदद से पानी डालकर चौकी में फैले खूने को साफ किया।

चौकी में हंगामा करने वाले आरक्षक के खिलाफ एसआई ने रोजनामचे में शिकायत दर्ज की है। घटना की जानकारी एसपी प्रशांत अग्रवाल को दी गई। एसपी के आदेश पर उसे लाइन अटैच किया गया है। उसके खिलाफ सोमवार को कार्रवाई की जाएगी।

-रोहित बघेल, एएसपी, ट्रैफिक

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned