ओडीएफ के नाम पर फर्जीवाड़ा कर राष्ट्रपति से ले लिया पुरस्कार, हाईकोर्ट ने जिला प्रशासन से मांगा जवाब

कोरिया जिले के खडगांव ब्लाक निवासी रामप्रताप साहू ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है वकील अशोक शुक्ला के माध्यम से दायर याचिका में बताया गया है कि कोरिया जिले को फर्जी तरीके से ओडीएफ जिला घोषित किया गया है ।

By: Karunakant Chaubey

Published: 16 Sep 2020, 04:36 PM IST

बिलासपुर. कोरिया जिले में कोरियर के नाम पर घोटाला कर राष्ट्रपति पुरस्कार ले लिया गया शिकायत पर जांच हुई पर रिपोर्ट दवा दी गई मामले में दायर जनहित याचिका पर हाईकोर्ट ने जिला प्रशासन को 4 सप्ताह में जांच रिपोर्ट सहित जवाब प्रस्तुत करने को कहा है । चीफ जस्टिस की डिवीजन बेंच ने कहा कि अगर जांच रिपोर्ट दवाई गई है तो अफसरों को कोर्ट में आकर जवाब देना होगा।

कोरिया जिले के खडगांव ब्लाक निवासी रामप्रताप साहू ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है वकील अशोक शुक्ला के माध्यम से दायर याचिका में बताया गया है कि कोरिया जिले को फर्जी तरीके से ओडीएफ जिला घोषित किया गया है । नवंबर 2017 में तत्कालीन कलेक्टर नरेंद्र दुग्गा ने जिले को ओडीएफ घोषित कर राष्ट्रपति से पुरस्कार लिया था । लेकिन इसके बाद भी शौचालय बनवाए जाते रहे इसके लिए मनरेगा के फर्जी मस्टररोल बनाए गए और लाखों की गड़बड़ी भी की गई ।

शौचालय को कागजों में शो कर पैसे खा गए

मस्टररोल से स्पष्ट हो रहा है कि कागजों में शौचालय निर्माण दिखाकर ओडीएफ का तमगा ले लिया पैसों की बंदरबांट कर ली । इसमें ऊपर से नीचे तक अधिकारी कर्मचारी शामिल हैं । बिना मिलीभगत इतना बड़ा फर्जीवाड़ा नहीं हो सकता । उन्होंने सवाल उठाया कि अगर जिला नवंबर 2017 में ऑडियो सो गया तो उसके बाद शौचालय कैसे बनवाए गए ।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned