नगर निगम में अवैध कॉलोनाइजर को नोटिस देने का खेल, अब तक नहीं हुई कार्रवाई

15 ग्राम पंचायत, 1 नगर पालिका और 2 नगर पंचायतों को शामिल किए जाने के बाद नगर निगम का क्षेत्र बढ़ गया है। शहर से लगी पॉश कॉलोनियां और ग्रामीण क्षेत्र नगर निगम में शामिल होने के बाद निगम प्रशासन ने अवैध प्लाटिंग करने वालों को खंगालना शुरू किया।

By: Karunakant Chaubey

Published: 28 Oct 2020, 07:18 PM IST

बिलासपुर. नगर निगम सीमा क्षेत्र में शामिल किए गए 15 ग्राम पंचायत, 1 नगर पालिका और 2 नगर पंचायतों में अवैध प्लाटिंग करने वालों की भरमार है। बिन ले आउट के प्लाटिंग कर बेचने वाले 100 अवैध कॉलोनाइजरों की सूची निगम अधिकारियों ने बनाई और नोटिस भी जारी किया, लेकिन नोटिस का खेल चलता रहा और अब तक अधिकारियों ने किसी कॉलोनाइजर पर कार्रवाई नहीं की है।

15 ग्राम पंचायत, 1 नगर पालिका और 2 नगर पंचायतों को शामिल किए जाने के बाद नगर निगम का क्षेत्र बढ़ गया है। शहर से लगी पॉश कॉलोनियां और ग्रामीण क्षेत्र नगर निगम में शामिल होने के बाद निगम प्रशासन ने अवैध प्लाटिंग करने वालों को खंगालना शुरू किया। करीब 100 से अधिक ऐसे अवैध कॉलोनाइजर सामने आए जिन्होंने बिना लेआउट के जमीन को टुकड़ों में बेच दिया।

जिले में थोक दुकानों में लगेंगे फुटकर प्याज काउंटर, कीमतों पर लगाम लगाने की कवायद

इसके साथ ही पॉश कॉलोनियों के आसपास और ग्रामीण क्षेत्रों में बिना ले आउट, डायवर्सन और बिना कॉलोनाइजर लाइसेंस के लोगों ने अवैध रूप से जमीन को टुकड़ों में बिक्री कर देने के मामले सामने आए। नगर निगम सीमा क्षेत्र में ऐसी जमीनों के भी खसरा नंबरों पड़ताल की गई जिसमें जमीनों को बिना कॉलोनाइजर लाइसेंस लिए बिक्री कर दिया गया है। इन जमीनों का हाल में ही तहसील कार्यालय से बटांकन हुआ है।

यानी लोगों ने बिना ले आउट पास कराए अपनी जमीन को कई टुकड़ों में बांटकर बेच दी है। अवैध कॉलोनाइजरों को नोटिस तो जारी किया गया, लेकिन कार्रवाई के नाम पर न तो अधिकारी सामने आए और न ही जनप्रतिनिधियों ने इस ओर ध्यान दिया।

लगातार हो रही अवैध प्लाटिंग

निगम अधिकारी लगातार निगम सीमा क्षेत्र में अवैध प्लांटिंग करने वालों की तलाश कर रहे हैं और उन्हें प्रतिदिन नए-नए मामले मिल रहे हैं। अवैध कॉलोनाइजरों की संख्या 100 से अधिक हो रही है।

भरना होगा भारी भरकम जुर्माना

नगर निगम के अधिकारियों ने अवैध प्लांटिंग करने वालों को नोटिस जारी किया था। अवैध कॉलोनाइजरों को नोटिस जारी कर नियमानुसार भारी भरकम जुर्माना पटाना है। कॉलोनाइजरों ने अब तक जुर्माने का भुगतान नहीं किया है । वहीं अधिकारियों ने भी अवैध कॉलोनाइजरों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।

ये भी पढ़ें: बैक डेट में एंट्री कर छुपा रहे मौत के आकड़े, अक्टूबर के 20 दिनों में 222 लोगों ने गंवाई जान

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned