नार्थ ईस्ट इंस्टिटयूट में महाप्रबंधक ने फहराया तिरंगा, रेलवे सुरक्षा बल ने दी परेड़ सलामी, देखें वीडियो

उद्बोधन के बाद रेलवे स्कूल के बच्चो ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर बेटी बचाव और स्वच्छ भारत अभियान का संदेश देकर समा बांध दिया।

By: Amil Shrivas

Published: 26 Jan 2018, 01:06 PM IST

बिलासपुर . रेलवे नार्थ ईस्ट इंस्टिटयूट में रेलवे महाप्रबंधक सुनील कुमार सोइन ने झंडा रोहण किया। झंडा रोहण के बाद मुख्य अतिथि सुनील कुमार सोइन ने परेड़ का निरीक्षण किया। अपने संबोधन में महाप्रबंधक ने 69 गणतंत्र दिवस की सभी को बधाई देते हुए कहा कि हमारा देश अभी विकास के नये दौर से गुजर रहा है नई आर्थिक गतिविधियों की शुरूआत हुई है। देश के परिवहन की मुख्यधुरी होने के कारण रेलवे की जिम्मेदारी सबसे ज्यादा है। दपूमरे भारतीय रेलवे का एक महत्तव पूर्ण अंग है चाहे वह लोडिग़ के मामले में हो या फिर यात्री परिवहन के क्षेत्र में हमेशा से नम्बर वन की श्रेणी में आता है। इस उपलब्धि को पाने में सभी अधिकारी और कर्मचारियों की महत्वपूर्ण योगदान है। सभी की मेहनता का ही नतीजा है कि क्वाल्टी काऊसिंल ऑफ इंडिया के द्वारा ही थर्ड पार्टी सर्वे में दपूमरे को क्लीनेस्ट जोन चुना गया है। लोडिग़ के मामले में वर्ष 2017-18 में 187 मीलियन टन का लक्ष्य दिया गया था दिसम्बर तक 133 मीलियन टन का लक्ष्य पूरा हो चुका है।

READ MORE : फिल्म पद्मावत के विरोध की तैयारी कर रहे 29 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पहला शो 3 बजे हुआ प्रदर्शित

वर्ष 2016 में दिसम्बर तक जो लोडिग़ हुई थी उससे इस वर्ष 3.47 मीलियन टन अधिक लोडि़ंग हुई है दिये गये लक्ष्य को जल्द पूरा करना हमारा उद्देश्य है और सभी की मेहनत से यह लक्ष्य भी जल्द ही पूरा हो जाएगा। यात्री परिवहन को लेकर भी रेलवे ने इस वर्ष 9 करोड़ 25 लाख यात्रियों को उनके गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचाया है। ट्रेनों में साफ सफाई और खान-पान अच्छी क्वाल्टि का उपलब्ध कराना प्राथमिकता है। अपने उदबोधन में सुनील कुमार सोईन महाप्रबंधक ने कहा यात्रियो को बेहतर सुविधा मिल सके इसके लिए बिलासपुर रेलवे स्टेशन के दूसरी ओर को विकसीत करने का मास्टर प्लान तैयार किया जा चुका है वहा बुकिंग सुविधा के साथ ही फुट ओवर ब्रिज से भी जोड़ा जाएगा। उद्बोधन के बाद रेलवे स्कूल के बच्चो ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर बेटी बचाव और स्वच्छ भारत अभियान का संदेश देकर समा बांध दिया। बच्चो को कार्यक्रम के अंत में पुरस्कृत किया गया इस अवसर पर भरी संख्या में स्कूली बच्चे और गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

READ MORE : पानी निकासी में बाधक बने 20 चबूतरों को विवाद के बाद ढहाया, विरोध करते हुए व्यापारी

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned