‘प्रभु जगन्नाथ’ पहुंचे मौसी के घर पोड़ो पिठ्ठो खिलाकर किया आदर

‘प्रभु जगन्नाथ’ पहुंचे मौसी के घर पोड़ो पिठ्ठो खिलाकर किया आदर

Anil Kumar Srivas | Updated: 17 Jul 2018, 12:51:57 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

महाप्रभु का मौसी गुंडिचा के घर हुआ स्वागत-सत्कार

बिलासपुर. महाप्रभु जगन्नाथ रथयात्रा उत्सव में मौसी मां गुंडिचा के घर रथ पर सवार होकर पहुंचे हंै। महाप्रभु का पहले दिन मौसी मां के घर स्वागत-सत्कार किया गया। अपने लाडले जगन्नाथ को मौसी ने उनका पसंदीदा व्यंजन पोड़ो पिठ्ठो बनाकर खिलाया। मौसी के घर सुबह से शाम तक भक्त महाप्रभु के दर्शन के लिए पहुंचे। जहां पर प्रभु प्रत्येक भक्त से मिले और भक्तों ने प्रभु के समक्ष प्रार्थना की। रेलवे क्षेत्र स्थित श्री जगन्नाथ मंदिर में रथयात्रा उत्सव मंदिर सेवा समिति की ओर से मनाया जा रहा है। महाप्रभु रथ में सवार होकर शनिवार की शाम मौसी मां के घर पहुंचे। जहां पर रात्रि में विश्राम कर रविवार की सुबह उनकी दिनचर्या पुन: प्रारंभ हुई। मंदिर समिति के उपाध्यक्ष केके बेहरा ने बताया कि महाप्रभु मौसी के घर मेहमान बनकर आए है और यहां पर श्री मंदिर की तुलना में भक्त महाप्रभु से ज्यादा करीब से मिल रहे हैं। भक्तों के साथ महाप्रभु भी उत्साहित हैं। मौसी के घर उनकी बहुत ज्यादा खातिरदारी की जा रही है। सुबह पुजारी गोविंद प्रसाद पाढ़ी के मार्गदर्शन में पूजन विधि के बाद भोग प्रसाद अर्पित किया गया। भक्त सुबह से ही भगवान से मिलने के लिए पहुंचे। सुबह व शाम दोनों ही समय मौसी के घर उत्साह का माहौल देखा गया। इसके अलावा मौसी ने खास तौर पर महाप्रभु को उनका पसंदीदा व्यंजन पोड़ो पिठ्ठो खिलाया। जिसे ग्रहण कर महाप्रभु आनंदित हुए। प्रभु के सेवा में श्रद्धालु भी जुटे हुए हैं। इस अवसर पर मंदिर समिति के अध्यक्ष पीके सामंतराय, उपाध्यक्ष केके बेहरा, सचिव गजेन्द्र प्रसाद दास, सह सचिव एमके दास, एमके मोहंती, डी नायक, के पात्र, आरसी प्रधान, बीबी मोहंती, सीआर बाग, एसए मोहंती सहित बड़ी संख्या में मंदिर समिति के सदस्य उपस्थित थे। महाप्रभु जगन्नाथ की मौसी मां के घर महाआरती की गई। इसमें 108 दीपों से महाआरती करते हुए प्रभु के समक्ष भक्त आशीर्वाद लेने पहुंचे। किसी ने अगरबत्ती तो किसी ने धूप अर्पित किया। वहीं महिलाएं हाथों में आरती की थाल लेकर महाप्रभु की विधि-विधान से पूजा करती रही।

श्री कला क्षेत्र परिषद ने दी भजनों की प्रस्तुति
महाप्रभु जगन्नाथ के स्वागत सत्कार में रोज शाम को श्री कला क्षेत्र परिषद के कलाकारों ने भजनों की प्रस्तुति दी। हिन्दी भजनों से महाप्रभु का मनोरंजन किया गया। इस कार्यक्रम में प्रभु के गुणों का बखान किया गया। इस दौरान भक्त भी महाप्रभु के लिए आयोजित भजन कार्यक्रम में पहुंचे। देर रात तक भजनों को सुनकर भाव-विभोर हुए। सोमवार की शाम भी श्री कला क्षेत्र परिषद के कलाकारों द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी।

बहन सुभद्रा व भाई बलभद्र भी हैं आनंदित
मौसी के घर महाप्रभु के साथ बहन सुभद्रा व भाई बलभद्र भी पहुंचे हंै। उनका भी खूब सत्कार किया जा रहा है। जिसे देखकर वे भी काफी आनंदित हैं। उनको मंदिर से अलग माहौल मिला है और यहां पर कोई नियम नहीं है यहां वे मेहमान है इसलिए उनका ज्यादा ख्याल रखा जा रहा है।

साल में एक बार ही मिलता है अवसर
महाप्रभु जगन्नाथ को साल में एक ही बार नगर भ्रमण कर मौसी के घर आने का अवसर मिलता है। ऐसी मान्यता है कि महाप्रभु जगत के पालन हार है और उनके दर्शन भक्तों को रथयात्रा में बहुत अच्छे से करने को मिलता है। महाप्रभु भक्तों को रथयात्रा उत्सव के माध्यम से संदेश देते है कि मनुष्य को भी जीवन में घूमते-फिरते हुए रहना चाहिए।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned