जिले के कोटा, अजमेर में सौ छात्र फंसे, हेल्पलाइन नंबर जारी होते ही लगातार कर रहे संपर्क

राजस्थान के विभिन्न शहरों में कोचिंग करने गए छात्र व विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रतिभागी हेल्पलाइन नंबर जारी होने के साथ ही लगातार संपर्क कर रहे है।

By: GANESH VISHWAKARMA

Published: 19 Apr 2020, 07:42 PM IST

बिलासपुर . राजस्थान के विभिन्न शहरों में कोचिंग करने गए छात्र व विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रतिभागी हेल्पलाइन नंबर जारी होने के साथ ही लगातार संपर्क कर रहे है। अब तक सौ से छात्रों ने मदद के लिए फोन कर चुके है। इनमें 90 फीसदी छात्र कोटा व दस फीसदी अजमेर में फंसे है।
राजस्थान के कोटा समेत विभिन्न शहरों में जिले के फंसे हुए छात्रों के लिए जिला प्रशासन की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। इसके बाद से शनिवार ,रविवार को सौ से अधिक छात्र, अभिभावक, पालकों ने वहां से छात्रोंं को लाने के लिए मदद की गुहार लगा चुके है। हेल्पलाइन नंबर पर लगातार फोन आ रहे है।

सूची तैयार कर रहे
जिला शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार भार्गव ने बताया कि सहायता के लिए फोन करने वालों की सूची तैयार की जा रहीं है। इसके बाद ही इस पर निर्णय लिया जाएगा। भार्गव ने बताया कि अब तक लगभग सौ लोगों ने फोन से संपर्क किया है। इनमें दो शहरों कोटा व अजमेर के शामिल है।

नोडल अधिकारी से संपर्क करें
लॉकडाउन के कारण राजस्थान के कोटा में बिलासपुर जिले के जिन छात्रों को रुकना पड़ा है उनकी समुचित देखभाल सुनिश्चित की जा रही है। ये छात्र वहां विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग लेने गए हुए हैं। जिला शिक्षा अधिकारी व नोडल अधिकारी अशोक कुमार भार्गव से संपर्क कर सकते है।
इन नंबरों से मिलेगी सहायता
राजस्थान के विभिन्न शहरों में कोचिंग करने गए छात्रों को अपने बारे में पूरी जानकारी जैसे जिले में उनका निवास किस स्थान पर है और कोटा के अलावा किन शहरों में इस समय है। वे किस छात्रावास या पीजी पर रुके हैं। अपना पता मोबाइल नंबर अपने अभिभावक का पता एवं मोबाइल नंबर जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मोबाइल नंबर 9009154698 , 9425219584 या 9727460674 पर सम्पर्क कर देनी होगी। इन नंबरों पर बिलासपुर जिले के छात्रों के अभिभावक भी अपनी समस्या से अवगत करा सकते हैं।

GANESH VISHWAKARMA Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned