पत्नी सोती रही बगल कमरे में इधर पति लटक गया फंदे में, डेढ़ माह पहले हुई थी शादी

- पति को जिंदा समझ पत्नी ने शव को नीचे उतार कर देखा तो पति की सांसें थम चुकी थी। इस दौरान पटेल टिम्बर के मालिक हरीलाल पटेल ने सिविल लाइन थाने को घटना की सूचना दी।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 27 Feb 2021, 05:00 PM IST

बिलासपुर. सर्वेंट क्वाटर में पत्नी के साथ रह रहे युवक ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगातर आत्महत्या कर ली। सो कर उठी पत्नी ने जब बगल के कमरे में देखा तो उसके पति की लाश गमछे के फंदे पर झूल रही थी। दुकान संचालक की सूचना पर पहुंच सिविल लाइन पुलिस ने अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

पुलिस के अनुसार चनाडोंगरी निवासी सतीष कुमार पटेल पिता संतराम पटेल (20) पटेल टिम्बर उसलापुर ओवर ब्रिज के पास पत्नी पूर्णिमा के साथ रहकर मजदूरी करता था। गुरुवार की सुबह सतीष सुबह उठा और अपने पिता से बात करने के बाद बंगल के कमरे में जाकर गमछे का फंदा बनाकर आत्म हत्या कर ली। पत्नी पूर्णिमा पटेल जब सो कर उठी व पति को खोजते हुए सुबह लगभग 7.40 से 8 बजे के बीच बंगल के कमरे तक पहुंची तो देखा पति की लाश फंदे पर झूल रही थी। पति को जिंदा समझ पत्नी ने शव को नीचे उतार कर देखा तो पति की सांसें थम चुकी थी। इस दौरान पटेल टिम्बर के मालिक हरीलाल पटेल ने सिविल लाइन थाने को घटना की सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। जांच अधिकारी ने बताया कि सतीष ने किन कारणों से आत्म हत्या का कोई कारण परिजनों व पत्नी से पूछताछ में सामने नहीं आया है।

डेढ़ माह पहले रतनपुर मंदिर के सामने पहनाया था मंगलसूत्र
छह माह पहले मृतक सतीष पटेल सिरगिट्टी में किसी फैक्ट्री में रोजी मजदूरी किया करता था। इस दौरान उसकी मुलाकात लाफा निवासी पूर्मिम से हुई। दोनों के बीच प्यार हो गया, परिवार वाले शादी के राजी होंगे या नहीं यह सोच दोनों ने महामाया मंदिर रतनपुर पहुंचे व मंदिर परिसर में ही मंगलसूत्र खरीद सतीष ने पूर्णिमा को पहना प्रेम विवाह किया था।

पति को जिंदा समझ उतारा फंदे से
पूर्णिमा ने जब पति की लाश को फंदे पर झूलता देखा तो तुरंत फंदे को काट कर पति को नीचे उतारा लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

शादी के बाद ही दोनों रहते थे अलग
पूर्णिमा ने पुलिस को बयान में बताया कि सिरगिट्टी में काम के दौरान दोनों ने शादी तो कर ली लेकिन उसके बाद भी दोनों अलग अलग रहते थे। 7 फरवरी को सिरगिट्टी छोड़ उसलापुर ओवर ब्रिज के पास पटेल टिम्बर में आकर दोनों पति पत्नी की तरह रह रहे थे।

सुबह पिता से फोन कर मांगा था एक हजार
पुलिस को दिए बयान में मृतक सतीष पटेल के पिता संतराम ने पुलिस को बताया कि गुरुवार की सुबह 7.36 बजे बेटे का फोन आया था, तबीयत खराब होने की बात 1 हजार की मांग की थी। शाम तक रुपए देने का आश्वासन पिता ने दिया था।

पटेल टिम्बर कर्मचारी ने अज्ञात कारणों के चलते फंसी लगाकर आत्म हत्या कर ली है। पुलिस मामले में मर्ग कायम कर जांच कर रही है। मृतक से सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।
- सनिप कुमार रात्रे, थाना प्रभारी सिविल लाइन

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned