बाढ़ में अब तक के सर्वे में 286 मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए,246 को आंशिक नुकसान

तखतपुर तहसील में पिछले सप्ताह मनियारी नदी, घोंघा नदी एवं छोटी नर्मदा नदी में बाढ़ से करीब डेढ़ दर्जन गांवों में पानी घुस गया था। बाढ़ से प्रभावित लगभग दो सौ लोगों को सुरक्षित पर पहुंचाया गया था। अब इस बाढ़ प्रभावित गांवों का राजस्व विभाग की तरफ से आंकलन प्रारंभ किया गया है

By: Karunakant Chaubey

Published: 25 Aug 2020, 12:27 PM IST

बिलासपुर. बाढ़ से तखतपुर तहसील में 286 मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। वहीं 246 मकानों को आंशिक नुकसान हुआ है। सर्वेक्षण का कार्य जारी है। बरेला स्थित एनएच पुल का मरम्मत का कार्य सोमवार को जारी रहा। बिल्हा तहसील में सोमवार से क्षतिग्रस्त मकानों का सर्वे प्रारंभ किया गया है।

तखतपुर तहसील में पिछले सप्ताह मनियारी नदी, घोंघा नदी एवं छोटी नर्मदा नदी में बाढ़ से करीब डेढ़ दर्जन गांवों में पानी घुस गया था। बाढ़ से प्रभावित लगभग दो सौ लोगों को सुरक्षित पर पहुंचाया गया था। अब इस बाढ़ प्रभावित गांवों का राजस्व विभाग की तरफ से आंकलन प्रारंभ किया गया है।

286 मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त

तखतपुर और आसपास के गांवों में बाढ़ का पानी घुसने से काफी संख्या में मकानों को क्षति हुई है। सोमवार तक के सर्वे में विभिन्न गांवों के 286 मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। क्षति का आंकलन करने में अलग अलग राजस्व टीमें जुटी हैं।

246 को आंशिक नुकसान

तखतपुर क्षेत्र के जिन गांवों में बाढ़ का प्रकोप रहा है। उन गांवों में अभी तक के आंकलन में 246 लोगों का मकान आंशिक तौर पर क्षतिग्रस्त हुआ है। इसकी संख्या में और अधिक इजाफा होने की संभावना है।

बिल्हा में सर्वे शुरू

बिल्हा तहसील के दो गांव मोहदा एवं अटर्रा बाढ़ से सर्वाधिक प्रभावित रहा है। इन गांवों में मकानों की क्षति का आंकलन सोमवार से प्रारंभ किया गया है। इस सप्ताह तक सर्वे का कार्य पूरा होने की संभावना है।

फसलों का आकंलन नहीं हुआ

कृषि विभाग के पास पिछले सप्ताह तखतपुर, बिल्हा तहसीलों के गांवों में बाढ़ से कितने एकड़ की फसल पानी में डूब गए थे। फिलहाल इसका आंकलन विभाग के पास उपलब्ध नहीं है।

मवेशियों का कोई रिकार्ड नहीं

बाढ़ प्रभावित गांवों में कितने जानवरों की मौत हुई या पानी में बह गए हैं। इसका अब तक कोई रिकार्ड पशु चिकित्सा विभाग के पास उपलब्ध नहीं है। विभाग का दावा है कि बाढ़ से कोई मवेशी न बहे और मृत हुए हैं।

प्रारंभिक आंकलन में 532 मकानों को क्षति

तखतपुर तहसील में बाढ़ से अब तक के सर्वे में 286 मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। वहीं 246 मकानों को आंशिक नुकान हुआ है। सर्वे का कार्य जारी है। एनएच पुल में मरम्मत कार्य जारी है।

-भूपेंद्र जोशी, तहसीलदार, तखतपुर

क्षति सर्वे का कार्य शुरू

बिल्हा के दो गांवों में बाढ़ से घरों को हुए नुकसान का आंकलन सोमवार से प्रारंभ किया गया है। इस सप्ताह तक यह कार्य पूरा हो जाएगा।

-अखिलेश साहू , एसडीएम,बिल्हा

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned