पैदल मार्च कर होटल-ढाबों में की जांच पड़ताल, ऐसी हरकतों वाले लोगों को लिया हिरासत में

आचार संहिता के मद्देनजर चलाया अभियान, जीआरपी-आरपीएफ के साथ स्टेशन, आसपास के क्षेत्र में की जांच

By: Amil Shrivas

Updated: 29 Mar 2019, 02:57 PM IST

बिलासपुर. चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर पुलिस ने गुरुवार को शहर के अलग-अलग इलाकों में पैदल मार्च किया। संदेवनशील इलाकों में संदिग्ध हालत में घूमने वाले दो दर्जन युवकों को पकड़ा गया। संदिग्ध रूप से घूमने वाले नए चेहरों की तलाश करने पुलिस ने जीआरपी और आरपीएफ की टीम के साथ रेलवे स्टेशन और आसपास क्षेत्र में जांच पड़ताल की। गुरुवार को सीएसपी सिविल लाइन एसएस पैकरा, सीएसपी कोतवाली विश्वदीपक त्रिपाठी ने शहर के अलग-अलग स्थानों पर पैदल पेट्रोलिंग की। शहर के संवेदनशील क्षेत्र सरकंडा, चिंगराजपारा, तिलकनगर, तालापारा, सरजू बगीचा, टिकरापारा, दयालबंद , जरहाभाठा से पुलिस ने दो दर्जन से अधिक युवकों को हिरासत में लिया है। इनके खिलाफ पुलिस ने प्रतिबंधात्मक धारा के तहत कार्रवाई की है।

शहर में 13 होटलों और लॉज की हुई जांच
शहर के सिविल लाइन, तोरवा, तारबाहर, कोतवाली, सरकंडा, कोनी, सिरगिट्टी, सकरी और चकरभाठा पुलिस ने अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित करीब 13 होटल और लॉजों में आकस्मिक जांच की। सरप्राइज चेकिंग कर पुलिस ने होटल और लॉज में ठहरने वाले बाहरी लोगों के सामानों की जांच करने के साथ-साथ होटल और लॉज के रजिस्टर भी खंगाले।

17 स्थानों पर बनाया चेकपोस्ट
जिला प्रशासन और पुलिस की संयुक्त टीम ने जिले के अलग-अलग 17 स्थानों पर चेकपोस्ट बनाए हैं। चेकपोस्ट में बाहर से आने वाले वाहनों और जिले से बाहर जाने वाले भारी वाहन से लेकर बाइक चालकों की जांच पड़ताल की जा रही है।

ढाबों में भी की चेकिंग
जिले के ग्रामीण क्षेत्र मस्तूरी, पचपेड़ी, बिल्हा, हिर्री,रतनपुर, कोटा, तखतपुर, गौरेला, पेण्ड्रा और मरवाही थानों के पुलिस कर्मियों ने गुरूवार को अपने-अपने क्षेत्रों के ढाबों की जांच पड़ताल की। ढाबा संचालकों को अवैध शराब की बिक्री नहीं करने और बैठा कर शराब नहीं पिलाने की हिदायत दी गई।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned