हत्या के आरोपियों के घरों से बरामद ये सामान, देख सब रह गए दंग !

हत्या के आरोपियों के घरों से बरामद ये सामान, देख सब रह गए दंग !

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 08 2018 01:14:06 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 01:16:19 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि हत्या के बाद उन्होंने मृतक का मोबाइल रायगढ़-बिलासपुर मेमू में सीट के नीचे छिपा दिया था। हत्या में उपयोग किए गए चाकू, बेसबाल और मृतक का कैमरा पुलिस ने आरोपी किशोरों के घर से बारामद किया।

बिलासपुर. लेनदेन के विवाद में युवक की हत्या कर लाश गोकने नाला में फेंकने के मामले में पकड़ाए आरोपी युवक व किशोरों के मकानों से पुलिस ने शुक्रवार को हत्या में उपयोग किया गया चाकू, बेसबाल बैट और कैमरा बरामद किया। वहीं घटना के बाद मृतक का पर्स तिफरा ओवर ब्रिज के पास फेंक दिया गया था। पुलिस ने इसे भी बरामद कर लिया है। सिरगिट्टी पुलिस के अनुसार, सरजू बगीचा निवासी आदित्य सिंह पिता सुधीर सिंह चौहान (20) का इमलीपारा निवासी किशन पिता शरद यादव (19) से लेनदेन का विवाद था। किशन ने अपने दो साथी किशोरों के साथ मिलकर 4 सितंबर को उसे तिफरा यदुनंदन नगर ले जाकर साथी किशोर के घर में बेसबाल के बैट व चाकू से मारकर मौत के घाट उतार दिया था।

आरोपियों ने उसकी लाश पेपर व लाल रंग के कपड़े में बांधकर तिफरा गोकने नाला के नीचे फेंक दिया था। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी किशन व उसके साथियों को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि हत्या के बाद उन्होंने मृतक का मोबाइल रायगढ़-बिलासपुर मेमू में सीट के नीचे छिपा दिया था। हत्या में उपयोग किए गए चाकू, बेसबाल और मृतक का कैमरा पुलिस ने आरोपी किशोरों के घर से बारामद किया। वहीं आरोपियों ने मृतक का पर्स तिफरा ओवर ब्रिज के पास सड़क किनारे फेंक दिया था, जिसे पुलिस ने बरामद किया। आदित्य के खून से सने आरोपियों के कपड़े भी पुलिस ने आरोपियों के घरों से बरामद कर लिया है।

Prev Page 1 of 2 Next

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned