आचरण संहिता का अक्षरश: हो पालन

आचरण संहिता का अक्षरश: हो पालन

Amil Shrivas | Publish: Sep, 16 2018 01:12:04 PM (IST) Mungeli, Chhattisgarh, India

प्रशिक्षण: कलेक्टर ने राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों को दी जानकारी

मुंगेली. कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डी सिंह की उपस्थिति में शनिवार को कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में विधानसभा निर्वाचन 2018 के संदर्भ में मतदान केंद्र स्तरीय अभिकर्ताओं को आदर्श आचरण संहिता, ईवीएम एवं वीवीपैट की जानकारी दी गई। कलेक्टर ने राजनीतिक दल के पदाधिकारियों से कहा कि वीवीपैट के संबंध में भलीभांति जानकारी प्राप्त कर लें।
उन्होंने बताया कि 25 सितंबर 2018 को दोपहर 12 बजे तीनों विकासखण्डों मुंगेली, लोरमी एवं पथरिया में मतदान अभिकर्ताओं (बीएलए) को प्रशिक्षण दिया जाएगा। मास्टर ट्रेनर्स आईपी यादव ने बताया कि जिले में 659 मतदान केंद्र बनाये गये हंै। उन्होंने ईवीएम और वीवीपैट के संचालन के संबंध में बारीकी से विस्तृत जानकारी दी। मास्टर ट्रेनर्स जयमंगल ध्रुव ने प्रशिक्षण में बताया कि कोई भी दल अथवा प्रत्याशी ऐसा कोई कार्य अथवा व्यवहार नहीं करेगा, जिससे धार्मिक अथवा सामाजिक समरसता और सदभाव बिगड़े या तनाव बढ़े। कोई भी दल अथवा प्रत्याशी मतयाचना करते समय धार्मिक, जातिगत अथवा किसी और संकीर्ण भावना का उपयोग नहीं करेगा। मतयाचना के लिए किसी धार्मिक स्थल या संस्थान का उपयोग नहीं किया जाएगा। प्रत्येक व्यक्ति की निजता का पूरा सम्मान किया जाएगा। केवल मत भिन्नता के कारण किसी व्यक्ति के निवास पर कोई धरना या प्रदर्शन नहीं किया जाएगा। कोई दल या प्रत्याशी स्वयं किसी की निजी संपत्ति भवन, भूमि अथवा परिसर पर झण्डे, पोस्टर, बैनर आदि उसकी पूर्व अनुमति के बिना नहीं लगाएंगे और न ही अपने समर्थकों को ऐसा करने देंगे। इस प्रतिबंध में दीवार लेखन भी
शामिल हैं।
आदर्श आचरण संहिता लागू होने के बाद राजनीतिक दलों को आचार संहिता का अक्षरश: पालन करना होगा। राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों को बताया गया कि कार्यक्रम आयोजन के लिए पहले आओ पहले पाओ के आधार पर अनुमति दी जायेगी। उन्होंने बताया कि मतदान अभिकर्ताओं को परिचय पत्र जारी किया जायेगा। मतदान के दिन अभिकर्ताओं के दायित्व एवं कार्यों की जानकारी दी गई। इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी, इंडियन नेषनल कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी, आप पार्टी के पदाधिकारी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं अपर कलेक्टर राजेष नषीने, डिप्टी कलेक्टर आर आर तम्बोली उपस्थित थे।
शासन किसी को भी अतिक्रमण नहीं करने देगा- पी दयानंद-गौरेला (पेण्ड्रारोड). स्थानीय विश्राम गृह में कलेक्टर पी दयानंद ने चुनाव तैयारी संबंधी अधिकारियों एवं राजनीतिक पार्टियों से चर्चा की। उन्होंने मीडियाकर्मियों से चर्चा करते हुए कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर अधिकारियों एवं राजनैतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों से चर्चा की गई है। प्रधानमंत्री स्वच्छता अभियान के तहत स्थानीय नगर पंचायत के सिर्फ एक वार्ड में नगर पंचायत द्वारा जो शौचालयों का निर्माण कराया गया है, उसमें 40 प्रतिशत शौचालय बने ही नहीं हैं तथा भुगतान पूरे का हो गया। इस मामले की जांच रिपोर्ट उपसंचालक नगरीय प्रशासन द्वारा शासन को भी भेज दिया गया है। उसकी रिपोर्ट की प्रति भी उन्हें दी गई। उन्होंने स्थानीय चिकित्सालय में डायालिसिस मशीन अभी तक नहीं आई तथा न उसका कोई आपरेटर या स्टाफ ही आया है के सवाल पर कहा कि डायलिसिस मशीन मैंने तो स्वीकृत कर दी है। स्टाफ नहीं आया होगा। इसीलिए अभी मशीन नहीं आई होगी। वहीं महिला एवं शिशु नये चिकित्सालय प्रारंभ होने के बाद स्टाफ न आने की बात पर कलेक्टर ने कहा कि इसका तो विज्ञापन भी स्त्री रोग विशेषज्ञ के लिए भी निकाला गया है। आप लोगों के कोई परिचित हो तो आप लोग भी देखिएगा। वन भूमि में धड़ल्ले से वृक्षों की कटाई कर पीपरखूंटी, कोटरिया डांड, खोडरी आदि स्थानों में अतिक्रमण किए जाने के मामले में कलेक्टर ने कहा कि मेरी जानकारी में नहीं है। मैं देखता हूं। इसी संदर्भ में मंगली सप्ताहिक बाजार में हो रहे अतिक्रमण के संबंध में मीडियाकर्मियों द्वारा चर्चा करने पर कहा कि शासकीय भूमि में मंगली बाजार क्या कहीं भी अतिक्रमण शासन नहीं करने देगा। उन्होंने उपस्थित अनुविभागीय अधिकारी पेण्ड्रारोड नूतन कंवर को प्रकरण को तत्काल देखने के लिए निर्देशित किया। उन्होंनेे कहा कि लिपिक वर्ग हड़ताल से प्रशासकीय कार्यों में कोई फर्क नही पड़ रहा है।

सुचारू रूप से प्रशासनिक कार्य हो रहै है।

Ad Block is Banned