मां कर्मा के जयकारे लगाते हुए साहू समाज ने शुरू की माता कर्मा रथ यात्रा

मां कर्मा के जयकारे लगाते हुए साहू समाज ने शुरू की माता कर्मा रथ यात्रा

Amil Shrivas | Publish: Mar, 14 2018 01:38:41 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

कार्यक्रम में फूलों से सजे आकर्षक रथ को देखने के लिए लोग उत्साहित नजर आए।

बिलासपुर . भक्त मां कर्मा की रथ यात्रा मंगलवार को कर्मा चौक बहतराई से विधि-विधान से पूजा-अर्चना करते हुए की गई। इस दौरान समाज के लोगों ने भक्त माता कर्मा के बताए हुए मार्ग पर चलने का संकल्प लेते हुए जयकारे लगाकर रथ यात्रा प्रारंभ की। आकर्षक रथ में माता कर्मा की प्रतिमा रखकर उनके संदेश को प्रचारित करते हुए समाज में बुराईयों व अंधविश्वासों को दूर कर आपसी एकता का भाव उत्पन्न करने के उद्देश्य से यह रथ यात्रा की जा रही है। जिला साहू संघ की ओर से माता कर्मा रथ यात्रा की शुरुआत मंगलवार की दोपहर की गई। अध्यक्ष बृजेश साहू ने बताया कि भक्त मां कर्मा की जयंती 15 अप्रैल को मनाई जाएगी। तब तक यह रथ यात्रा अलग-अलग जगहों में जाकर माता के संदेश को लोगों तक पहुंचाएगी। इसकी शुरुआत भव्य रूप से की गई है। बहतराई से शुरू हुई इस यात्रा का समापन बेलपान में 13 अप्रैल को होगा। रथ जिस-जिस गांव में जाएगा वहां पर भक्त मां कर्मा की जयंती धूमधाम से समाज के लोग मनाएंगे व उनके संदेशों व बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लेंगे। कार्यक्रम में फूलों से सजे आकर्षक रथ को देखने के लिए लोग उत्साहित नजर आए। इस अवसर पर महामंत्री क्रांति साहू, उपाध्यक्ष देवीलाल साहू, सुरेश दीवान, सचिव गेंदलाल साहू, रामेश्वर साहू, शंकर साहू, बनवाली साहू, संतोष साहू, डॉ.एफएल साहू, श्याम सुंदर साहू, अम्बालिका साहू, भाउराम साहू, कृष्ण कुमार साहू, संतोष साहू, रामलाल साहू, बंटी साहू, जित्तु साहू, ओमपी साहू, कौशल साहू, हरिशचंद्र साहू सहित बड़ी संख्या में समाज के सदस्य उपस्थित थे।
पहली बार हो रहा ऐसा आयोजन : महामंत्री क्रांति साहू ने बताया कि भक्त मां कर्मा की रथ यात्रा पहली बार शुरू की गई है। जिसमें प्रत्येक दिन रथ जहां भी पहुंचेगी। उस क्षेत्र के लोग रथ का स्वागत सत्कार करते हुए वहां पर भक्त माता कर्मा की जयंती भी मनाएंगे।
आदर्श विवाह व जयंती का होगा आयोजन : आगामी 15 अप्रैल को भक्त मां कर्मा की जयंती भव्य रूप से मनाई जाएगी। कार्यक्रम लाल बहादुर शास्त्री प्रांगण में होगा। यह कार्यक्रम दो दिन का होगा। इसमें 14 को आदर्श सामूहिक विवाह, मंडपाच्छादन, चुलमाटी, हरिद्रालेपन, हरिदियाही का कार्यक्रम होगा। शाम पांच बजे लाल बहादुर शास्त्री स्कूल से बारात प्रस्थान व शोभायात्रा निकाली जाएगी। दूसरे दिन 15 अप्रैल को आदर्श विवाह व जयंती कार्यक्रम धूमधाम से मनाया जाएगा।

Ad Block is Banned