कानन पेण्डारी में नर तेंदुए ने मादा तेंदुए को उतारा मौत के घाट

Amil Shrivas

Publish: May, 17 2018 10:11:15 PM (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
कानन पेण्डारी में नर तेंदुए ने मादा तेंदुए को उतारा मौत के घाट

कानन प्रशासन की लापरवाही हुई उजागर, घटना के समय पर्यटक थे मौजूद

बिलासपुर . कानन पेण्डारी में गुरुवार को उस वक्त हड़कम्प मच गया, जब एक नर तेंदुवा अपना केज तोड़कर मादा तेंदुए के केज में घुसकर उसे मौत के घाट उतार दिया। इसकी जानकारी तेंदुए के केयर टेकर ने आकर जब कानन प्रभारी को दी तो उनके होश उड़ गए। आनन फानन में बड़े अधिकारियों को सूचना देकर देर शाम शव का पोस्टमार्टम कर मामले को दबाने के लिए कानन प्रशासन ने शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया। मामले की जानकारी जैसे ही मीडिया को लगी, कानन प्रभारी ने अपना फोन स्वीच ऑफ कर लिया।
मामला कानन पेण्डारी मिनी जूॅ का है। यहां गुरुवार की शाम करीब 4:30 बजे कानन नामक तेंदुवा अपने केज की जाली को तोड़कर मादा तेंदुवा डायना के केज में घुस गया। वहां उसने डायना के गर्दन सहित अन्य संवेदनशील जगहों पर अपने पंजे एवं नूकिले दांतों से कई वार किए, जिससे डायना की मौत हो गई। केयर टेकर जब केज के पास पहुचा और डायना को मृत अवस्था में देखा तो इसकी सूचना कानन अधीक्षक आरएस बच्चन सहित एसडीओ एचबी खान को दी। वे मौके पर पहुंचे और उन्होंने इसकी जानकारी डीएफओ शोभराम सिंह कंवर को दी, जिसके बाद मामले को दबाने के लिए आनन फानन में डॉक्टर चंदन को बुलाकर शव को बाहर निकलवाया और शव का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार कर दिया गया।

कानन प्रशासन की बड़ी लापरवाही हुई उजागर : जिस वक्त ये घटना हुई उस वक्त कानन पेण्डारी जूॅ के अंदर सैकड़ों की संख्या में पर्यटक मौजूद थे। पुष्ट सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार कानन तेंदुए का केज पूरी तरह सड़ चुका था। इसकी जानकारी उसके रखरखाव करने वाले लोगों ने आला अधिकारियो को दी थी, लेकिन उन्होंने इस ओर ध्यान नहीं दिया। अगर कानन तेदुवा पर्यटकों पर हमला कर देता तो बड़ी जनहानि हो सकती थी।

जांच से किया इंकार : कानन में इतनी बड़ी घटना होने पर जब डीएफओ से इस मामले में जांच के संबंध में जानकारी ली गई तो उन्होंने जांच कराने जैसी कोई बात नही है, कहकर मामले को टाल दिया।
कानन नामक तेंदुवा अपना केज तोड़कर डायना नामक मादा तेदुवा के केज में घुस गया था। मातहत कर्मियो से मिली जानकारी के अनुसार उसका बर्ताव कुछ दिनो से परिवर्तित था। उसने डायना पर हमला कर दिया, जिससें उसके गले सहित अन्य जगह पर चोट के निशान हैं। विशेषज्ञो की देखरेख में पोस्टमार्टम करा के शव का अंतिम संस्कार करा दिया गया है। मामले में जांच कराने जैसी कोई बात नहीं है।
शोभराम सिंह कंवर डीएफओ बिलासपुर

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned