स्टेशन पर पटरी पार कर रहा था दिव्यांग, अचानक आ गई मालगाड़ी, कुछ समझ पाता कि शरीर के हो गए दो टुकड़े

स्टेशन पर पटरी पार कर रहा था दिव्यांग, अचानक आ गई मालगाड़ी, कुछ समझ पाता कि शरीर के हो गए दो टुकड़े

Murari Soni | Updated: 14 Jul 2019, 11:41:44 AM (IST) Bilaspur, Bilaspur, Chhattisgarh, India

Man dies in Train accident: एक दिव्यांग पटरी पार करते हुए मालगाड़ी की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत ही गई।

बिलासपुर . स्टेशन के अंदर रेल लाइन पार करना अपराध की श्रेणी में आता है। आरपीएफ के जवानों को भी सख्त निर्देश है। बावजूद इसके वेंडरों की देखा-देखी लोग धड्ल्ले से रेल लाइन पार कर अपनी जान जोखिम में डाल रहे है। शनिवार को भी ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला जब एक दिव्यांग पटरी पार करते हुए मालगाड़ी की चपेट (Man dies in Train accident) में आ गया। जिससे उसकी मौत ही गई। घटना के बाद हरकत में आई आरपीएफ ने कि पटरी पार करने वालें 4 लोगो पर धारा 147 तहत कार्रवाई की है।

शनिवार सुबह करीब 9.30 बजे खडी मालगाड़ी के नीचे से ट्रैक पार करने के फिराक में एक दिव्यांग के दो टुकड़े हो गए। मालगाड़ी गुजरने के बाद घटना का लोगों को पता चला। स्टेशन मास्टर द्वारा घटना की सूचना देने पर जीआरपी ने मर्ग जांच में लिया है। मृतक दिव्यांग की उम्र लगभग 35 से 40 वर्ष, रंग गोरा, सलेटी कलर की शर्ट व टावेल लपेटे हुए है। मृतक के पास पहचान संबंधी कोई दस्तावेज नहीं न मिलने से उसकी पहचान नहीं हो सकी है। मृतक की शिनाख्त के लिए जीआरपी सोसल मीडिया व फोटो सभी थानों में भेज पहचान करने की कोशिश करने की बात कह रहे है।

वेंडरों ने बिगाड़ी रेलवे की व्यवस्था

यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे ने करोड़ो रुपए खर्च कर फुट ओवर ब्रिज का निर्माण कराया है। समय-समय स्काउंड एंड गाईड के माध्यम से जन जागरुकता फैलाने में लगा रहता है। लेकिन स्टेशन में पहुंचने वाला एक वर्ग ऐसा भी है जो वेंडरों पटरी पार करता देख खुद भी रेलवे ट्रैक पार करने लगते है और दुर्घटना का शिकार हो जाते है।दो माह में 4 रन ओवर की घटना जून व जुलाई की बात की जाए तो रेलवे स्टेशन या यार्ड में रन ओवर से मरने वालों की संख्या दो माह में चार पहुंच चुकी है। तो वही पटरी पार करते वक्त घायल होने की वालों की संख्या भी काफी है।

 

दो माह में 142 लोगों पर कार्रवाई

बिलासपुर रेलवे स्टेशन में पटरी पार करने वालों पर लगातार कार्रवाई करने की बात आरपीएफ करती है लेकिन कडाई से नियम का पालन न होने से यात्रियों भी रुचि नहीं दिखा रहे है। पिछले दो माह की बात की जाए तो आरपीएफ ने धारा 147 के तहत 142 लोगों पर कार्रवाई की है।

रोजाना ट्रेक पार करने वालों की संख्या 50 से अधिक कार्रवाई 4-6 पर ही

रेलवे ट्रैक कोई पार न कर सके इसके लिए आरपीएफ ने प्लेटफॉर्म में जवानों की तैनाती कर रखी है। बावजूद इसके नियम ताक में रख कर रोजना 50 से अधिक यात्री व वेंडर ट्रैक पार करते है। लेकिन कार्रवाई केवल 4 से 6 लोगों पर ही हो पाती है। शनिवार को हुए हादसे के बाद आरपीएफ ने 4 लोगों को ट्रैक पार करते हुए गिरफ्तार किया।

 

--रेलवे ट्रैक कोई पार न करे इसके लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। जवानों की ड्यूटी भी लगाई गई है। बावजूद इसके यात्री ट्रैक पार कर रहे है। सीसीटीवी फुटेज देखकर जब तक जवान पहुंचते है वह व्यक्ति नहीं मिलता है।

(Man dies in Train accident) मधुबाला पात्र, पोस्ट प्रभारी आरपीएफ(rpf police) रेलवे स्टेशन

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned