मरवाही पेंड्रा को 20 साल में बर्बाद करने वालों के बहकावे में न आएं, सारे विकास कार्य कांग्रेस की देन

- सीएम भूपेश बघेल ने ली मरवाही प्रत्याशी डॉ. ध्रुव के पक्ष में चुनावी सभा .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 17 Oct 2020, 01:49 AM IST

बिलासपुर. सीएम भूपेश बघेल ने कहा, भाजपा सरकारों और यहां के जनप्रतिनिधियों ने मरवाही पेन्ड्रा इलाके को 20 साल में बर्बाद कर दिया। जिला पहले बन गया होता तो आज विकास की दूसरी ही तस्वीर दिखाई देती। अब हमें इन लोगों के बहकावे में नहीं आना है और कांग्रेस के गढ़ रहे मरवाही में 20 साल की खाई को पाटने का काम करना है।
मरवाही विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. के केध्रुव के नामांकन के अवसर पर गौरेला में आयोजित आमसभा को सम्बोधित करते हुए सीएम ने कहा कि मरवाही शुरू से कांग्रेस का गढ़ रहा है। चाहे पोर्ते का समय हो, पहलवान सिंह का हो या स्वयं जोगी का। यह चुनाव महत्वपूर्ण है क्योंकि हम विनाश नहीं विकास चाहते हैं।

बघेल ने कहा कि भाजपा, कांग्रेस दोनों ही पाॢटयों के उम्मीदवार डॉक्टर हैं। उनके प्रत्याशी ने जन्म यहां लिया पर यहां रहते नहीं। हमारे प्रत्याशी का जन्म यहां नहीं हुआ पर 20 साल से यहीं रहते हैं।

जब मैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष था तो जोगी जी ने कोटमी में नई पार्टी की घोषणा कर दी। इसके बाद मनोज गुप्ता, उत्तम वासुदेव जैसे बहुत से साथी आये और कहा कि हम कांग्रेस में थे तब तक जोगी के साथ थे पर हम कांग्रेस नहीं छोड़ सकते। मैंने कहा कि ङ्क्षचता मत करो, जो कमिया बने थे, उसने छोड़ दिया पर कांग्रेस मरवाही कभी नहीं छोडऩे वाली। कांग्रेस अध्यक्ष रहते हुए ही मैंने विश्वास दिलाया था कि मरवाही की कभी उपेक्षा नहीं होने दूंगा। ऐतिहासिक 68 सीट प्रदेश में लेकर आए। जनता के आशीर्वाद से उप चुनाव में 69 हुए, अब संख्या 70 हो जाएगी।

10 फरवरी को जब मुख्यमंत्री के रूप में पहुंचकर मैंने यहां जिला बनाने की घोषणा की तो जोगी ने कहा था कि मैं मुख्यमंत्री था जिला नहीं बना पाया, डॉ. रमन के राज में नहीं बना। उसके बाद कोरोना के कारण कोई सभा नहीं हुई और अब इतनी बड़ी सभा आपके जिले में हो रही है। डॉ. रमन कल आकर बहुत सी बात कह गये। ये कहा कि हमने चावल नहीं दिया पर यह नहीं बताया कि चुनाव जीतने के बाद राशन कार्ड फाड़ दिया, नाम काट दिया। हमने काटा नहीं जोडऩे का काम किया। सबका कार्ड बनाया। उन्होंने मरवाही का विकास कभी नहीं किया। चाहे जिले की बात हो, तहसील, नगर पालिका या नगर पंचायत की हो या महाविद्यालय खोलने व विभाग बनाने की बात हो। सब काम हमारे हैं, मरवाही आखिरी नहीं, शुरुआत है। अमरकंटक भले ही मध्यप्रदेश में है पर सबसे ज्यादा छत्तीसगढ़ के पर्यटक वहां पहुंचते हैं। इसे पर्यटन, पुल, पुलिया, सड़क, सिंचाई के लिए विकसित करना है। कई लोग खासकर भाजपा के लोग कहते हैं कि हमने चुनाव आया इसलिए ऐसा किया। जब मैंने जिला बनाया तो किसे पता था कि जोगी हमारे बीच नहीं रहेंगे। जीना, मरना तो ईश्वर के हाथ में है और जब जिला बनाया है तो यहां विकास कार्य तो कराना होगा।

बघेल ने कहा कि भाजपा जो काम करती है उससे जनता परेशान होती है जैसे जीएसटी, लॉकडाउन व नोटबंदी। दूसरी ओर कांग्रेस चाहे केन्द्र में हो या राज्य में जनता के हित में फैसला करती है। ऋण माफी, आधा बिजली बिल, सबका राशन कार्ड, 4000 रुपये मानक बोरी तेंदूपत्ता खरीदी। 2500 रुपए में धान खरीदा तो केन्द्र ने चावल लेने से मना कर दिया। चिट्ठी आई रोक लगा दी गई। हमने राजीव किसान न्याय योजना से भुगतान किया। तीसरी किश्त भी एक नवंबर को मिल जायेगी। ये कहते हैं कि हम कर्ज ले रहे हैं तो हमने विधानसभा में कहा कि हां ले रहे हैं पर किसानों के लिए ले रहे हैं, कमीशनखोरी के लिए नहीं। दूसरे प्रदेशों में कोरोना के चलते कर्मचारियों की तनख्वाह काटी गई केन्द्र ने सांसद निधि, उनकी तनख्वाह तक काट दी, हमने नहीं काटा। हमने 25 लाख लोगों को रोजगार दिया। डॉ. रमन सिंह बताये कि उनके कार्यकाल में कितनों को काम मिला। कोरोना काल में हमने देश में सर्वाधिक 24 प्रतिशत जीएसटी जमा की है, देश में सबसे ज्यादा ट्रैक्टर और बाइक की बिक्री प्रदेश में हुई क्योंकि हमने किसानों को खुशहाल बनाने का काम किया। बघेल ने शिक्षा कॢमयों के नियमितीकरण, पुलिस में भर्ती आदि का जिक्र करते हुए बताया कि युवाओं, महिलाओं, पिछड़े वर्गों, अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों सभी का हमने ध्यान रखा है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से बूथों में रहकर कड़ी गंभीरता से चुनाव लडऩे कहा।

सभा को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम व कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. के. के. धुव ने भी सम्बोधित किया। इस मौके पर प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, सांसद ज्योत्सना महंत, कई मंत्री, विधायक और पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे।

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned