नौकरी दिलाने के बहाने दो दिन घुमाया फिर मोटर साइकिल और मोबाइल लूट भाग गया लुटेरा

- बजाज फायनेंस का एटेंज बता कर कॉलेज स्टूडेंट से लूट
- एप डाउनलोड करने के बहाने लूटा मोबाइल

By: Ashish Gupta

Published: 06 Jan 2021, 02:40 PM IST

बिलासपुर. बजाज फायनेंस का एटेंज बता कर कॉलेज स्टूडेंट को दो दिन घुमाने के बाद आरोपी ने अपने सर से मिलने के बहाने पीड़ित और उसके दोस्त को लेकर गनियारी पहुंचा। गनियारी हॉस्पिटल के पास पीड़ित और उसके दोस्त से मोबाइल व मोटर सायकल लूट कर भाग निकला। कोटा पुलिस ने मामले में धारा 392 के तहत अपराध दर्ज कर फरार लुटेरे की तलाश कर रही है।

पुलिस के अनुसार साल्हेकापा निवासी वेद प्रकाश पिता विजय कुमार यादव (20) बी कॉम का छात्र है। 29 दिसम्बर को वेद की मुलाकात कोटा में सार्वजनिक स्थान पर एक युवक से हुई जिसनें अपने आप को बजाज फायनेंस का एंजेट बताया व अपना नाम विवेक चौकसे बताया। बातों-बातों में विवेक ने वेदप्रकाश से कहा कि उसे वसूली के लिए बंदों की आवश्यकता है, सेलरी भी काफी अच्छी मिलेगी।

जेब्रा क्रॉसिंग से आगे गाड़ी खड़ी करने पर विधायक का कटा चालान, पटाया दो सौ रुपए का जुर्माना

कोरोना काल की वजह से कॉलेज में पढ़ाई न होने की युवक ने काम के लिए हॉ कर दी। विवेक ने युवक को अपना मकान दूर से दिखलाया व उसके साथ घूम कर वसूली करने एक दो दुकान गया लेकिन उसे बाहर ही बैठाया। 2 जनवरी को विवेक वेदप्रकाश को बॉस मिलने की बात कह अपने साथ गनियारी हॉस्पिटल लेकर पहुंचा।

वेदप्रकाश को विवेक ने बताया कि उसके बॉस हॉस्पिटल के अंदर एक डॉक्टर को मोटर सायकल लोन दिलाने के लिए पहुंचे है। दोनों लेकर हॉस्पिटल अंदर दाखिल हुआ तो गेट मैन ने मास्क न होने पर पहले मास्क लगाने और फिर अंदर आने की बात कही। इस विवेक ने गमछा बांध लिया व वेद प्रकाश और उसके साथी राजेश्वर प्रसाद को मास्क खरीदकर दिया व हॉस्पिटल अंदर दाखिल हुआ लेकिन अंदर स्टाफ ने गमछा की जगह मास्क पहनकर आने पर ही हॉस्पिटल में प्रवेश की बात कही।

आधी रात नींद में सो रहे पति को कुल्हाड़ी से काटकर की हत्या फिर तीन बच्चों समेत कुएं में कूद गई पत्नी

इस पर लुटेरे ने दोनों को कहा कि वह मास्क लेकर आ रहा है कह बाहर निकला लेकिन फिर अंदर नहीं आया। वेदप्रकाश व राजेश्वर ने जब बाहर निकल कर देखा तो उसकी मोटर सायकल गायब थी। 112 को फोन कर दोनों ने बुलाया और शिकायत करने कोटा थाने पहुंचे। पीडित की शिकायत पर कोटा पुलिस ने लूट की धारा के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

नाम व दिखाया घर निकला फर्जी
विवेक जब गनियारी हॉस्पिटल से भाग निकला तो दोनों युवक पुलिस को साथ लेकर उसके दिखाए घर पर पहुंचे। जहां पता चला की विवेक नाम का युवक वहा नहीं रहता। युवकों ने देखने से पहचाने की बात कही है।

एप डाउनलोड करने के बहाने लूटा मोबाइल
वेदप्रकाश व राजेश्वर प्रसाद का कहना है कि दोनों मोबाइल से ही कॉलेज की ऑनलाइन क्लास अटेंड करते थे। दोनों के पास मौजूद मोबाइल को लुटेरे ने एफ डाउन लोड करने व फार्म सब्मिट करने का बहाना बताकर लूट लिया है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned