15 दिनों से तीन दोस्तों के बीच चल रहा था विवाद, एकसाथ शराब पी और बैट व पत्थर से कुचलकर 2 ने तीसरे को मार डाला

15 दिनों से तीन दोस्तों के बीच चल रहा था विवाद, एकसाथ शराब पी और बैट व पत्थर से कुचलकर 2 ने तीसरे को मार डाला

Anil Kumar Srivas | Updated: 04 Jun 2019, 01:00:00 PM (IST) Bilaspur, Bilaspur, Chhattisgarh, India

सिरगिट्टी थानांतर्गत शांति नगर विद्युत कॉलोनी मैदान में हुई घटना
घटना के बाद आरोपी हुए फरार, चूड़ीहाई पत्नी को लेकर दोस्तों के बीच चल रहा था विवाद

बिलासपुर. सिरगिट्टी थानांतर्गत शांति नगर विद्युत कॉलोनी मैदान में सोमवार शाम 2 दोस्तों ने मिलकर एक दोस्त पर बैट और पत्थर से ताबड़तोड़ हमला करके मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक की चूड़ीहाई पत्नी को लेकर तीनों दोस्तों के बीच पिछले 15 दिनों से विवाद चल रहा था। हत्या करने से पहले आरोपियों ने मृतक के साथ उसकी चूड़ीहाई पत्नी के घर पर जमकर शराब पी थी। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। सिरगिट्टी पुलिस के अनुसार जरहाभाठा जतिया तालाब के पास रहने वाला दिनेश कुमार गढ़ेवाल पिता स्व बद्री गढ़ेवाल (27) चार पहिया मैकेनिक था। 4 वर्ष पूर्व उसने जरहाभाठा में रहने वाली जूली सोनवानी (30) को पति के छोडऩे के बाद चूड़ीहाई पत्नी बनाकर रखा था। 4 साल से वह जूली के साथ शांति नगर सिरगिट्टीस्थित करीम बाड़ा में किराये के मकान में रहता था। कुछ महीने पूर्व दिनेश ने एक कंपनी के शोरूम में मैकेनिक का काम छोडऩे के बाद निजी गैरेज में काम करने लगा था। टाटा मोटर्स में गार्ड का काम करने वाले अभिषेक नंदेश्वर के साथ उसकी दोस्ती थी। अभिषेक करीम बाड़ा में ही रहता था। शांति नगर में ही रहने वाले छोटे टोंडे से दिनेश और अभिषेक की मित्रता थी। रविवार को दोपहर डेढ़ बजे अभिषेक और छोटू टोंडे जरहाभाठा जतिया तालाब स्थित दिनेश के घर गए थे। तीनों दिनेश की बाइक सीजी एएच 6701 से शांति नगर करीब बाड़ा स्थित जूली के घर पहुंचे। यहां तीनों ने जमकर शराब पी। शाम करीब सवा 6 बजे अभिषेक और छोटू, दिनेश के साथ उसकी बाइक में बैठकर विद्युत कॉलोनी मैदान गए। वहां पुराने विवाद पर छोटू और अभिषेक ने मिलकर क्रिकेट के बल्ले से सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। हमले में बेट टूटने के बाद दोनों ने पास रखे पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। घटना को अंजाम देने के बाद दोनों मौके से फरार हो गए।

15 दिनों पहले भी हुआ था विवाद, जान बचाकर भागा था दिनेश
जूली ने बताया कि दिनेश, अभिषेक और छोटू टोंडे के बीच मित्रता थी। तीनों उसके घर पर आए दिन शराब पीते थे। 15 दिनों पूर्व तीनों घर में शराब पी रहे थे। तभी छोटू और अभिषेक का दिनेश से विवाद हो गया था। दोनों ने दिनेश को मारने के लिए चाकू निकाला था। दिनेश ने भागकर जान बचाई थी।

शादी की खुशियां मातम में बदलीं
मृतक दिनेश के बड़े भाई श्याम गढ़ेवाल ने बताया कि दिनेश 6 भाइयों मे सबसे छोटा था। दिनेश की 18 जून को शादी होने वाली थी। घर में सभी शादी की तैयारियों में व्यस्त थे। दिनेश भी शादी की तैयारियों में जुटा था। सोमवार को दिनेश की मौत के बाद शादी की खुशियां मातम में बदल गईं।

जूली को लेकर तीनों के बीच में चल रहा था विवाद
जूली से दिनेश ने शादी नहीं की थी, लेकिन चूड़ीहाई पत्नी बनाकर रखा था। अभिषेक और छोटू का भी जूली के घर आना जाना था। जूली को लेकर तीनों के बीच पिछले कुछ दिनों से विवाद चल रहा था।

सूनसान जगह से पकड़ाए दोनों आरोपी
पुलिस ने आरोपी घनश्याम उर्फ छोटू टोंडे पिता रामचरण (21 ) और अभिषेक नंदेश्वर पिता राजेश ( 28) को शांति नगर के सुनसान जगह से पकड़ा। दोनों आरोपी शराब के नशे में हैं। प्रारंभिक पूछताछ में दोनों ने शराब के नशे में विवाद होने पर दिनेश की हत्या करने का खुलासा किया है। आरोपियों का नशा उतरने का पुलिस इंतजार कर रही है। इसके बाद हत्या के कारणों को जानने पुलिस आरोपियों से पूछताछ करेगी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned