कपड़े व प्लास्टिक में बांधी लाश, फिर आधी रात को पुल से नाला में फेंका, ये थी बात !

कपड़े व प्लास्टिक में बांधी लाश, फिर आधी रात को पुल से नाला में फेंका, ये थी बात !

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 07 2018 05:51:23 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

वारदात: तिफरा गोकने नाला से पुलिस ने बरामद किया शव

बिलासपुर. लेनदेन के विवाद पर युवक ने दो नाबालिग के साथ मिलकर अपने साथी युवक को मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद आधी रात को लाश पेपर में लपेटकर और कपड़े में बांधकर पुल से नाले में फेंक दी। संदेह के आधार पर पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में क्राइम ब्रांच के सामने गुरुवार को खुलासा किया। घटना 4 सितंबर को हुई थी। गुरुवार शाम पुलिस ने शव को गोकने नाले से बरामद कर लिया है। जानकारी के अनुसार सिविल लाइन थानांतर्गत सरजू बगीचा निवासी आदित्य सिंह चौहान पिता सुधीर सिंह चौहान (20) बेरोजगार था। 4 सितंबर को वह अचानक लापता हो गया था। देर रात तक वह वापस नहीं आया तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। मृतक के मोबाइल पर लगातार कॉल करने पर वह फोन रिसीव नहीं कर रहा था। दूसरे दिन उसका कहीं पता नहीं चला। परिजनों ने गुमशुदगी की सूचना 5 सितंबर को थाने में दर्ज कराई थी। इधर साइबर सेल को मृतक के मोबाइल का लोकेशन रायगढ़ में मिला। परिजनों ने पुलिस को बताया कि इमलीपारा में रहने वाला आदित्य का साथी किशन यादव पिता शरद यादव (19) को दोपहर 3 बजे उसे लेकर गया था। पूछताछ करने पर उसने आदित्य को घर के पास छोडकऱ चले जाने की जानकारी दी थी।

15 हजार रुपए के बदले मांग रहा था 25 हजार , इसलिए मार डाला, पुलिस को बताई सच्चाई
आरोपी किशन ने पुलिस को पूछताछ के दौरान जो कहानी बताई, उसके अनुसार आदित्य से कुछ साल से उसका लेनदेन चल रहा था। 20-22 दिन पूर्व उसने उससे 15 हजार रुपए उधार लिए थे। वह उससे 15 हजार के बदले 25 हजार रुपए मांग रहा था। इसी बात पर दोनों के बीच कई बार विवाद हो चुका था। उसने यदुनंदन नगर में रहने वाले 15-15 वर्षीय दो किशोरों के साथ मिलकर उसकी हत्या की योजना बनाई। 4 सितंबर को वह मृतक को लेकर यदुनंदन नगर में रहने वाले एक मित्र के घर गया था। वहां से मृतक को पैसे देने की बात कहकर शाम 5 बजे यदुनंदन नगर में साथी किशोर के निर्माणाधीन मकान में ले गया था। मकान में पहले से दोनों किशोर मौजूद थे। मृतक ने उससे रकम की मांग की। उसने 15 हजार रुपए लौटाने की बात कही। लेनदेन को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया और मृतक ने उसे 2 तमाचा जड़ दिया। इसी बीच एक किशोर ने बेसबाल के बेत से मृतक के सिर पर पीछे से वार किया। मृतक के गिरने के बाद उसने चाकू से मृतक की पीठ पर वार कर और गर्दन रेतकर मौत के घाट उतार दिया।

पूछताछ में किशन ने खोला राज
सुराग मिलने पर क्राइम ब्रांच किशन के घर पहुंची। आरोपी घर में नहीं था। मृतक की बाइक सीजी 10 एजी 2677 में घूमते हुए क्राइम ब्रांच टीम ने उसे पकड़ा। पूछताछ में पहले तो वह आदित्य के साथ बाइक में घूमने के बाद उसे घर छोडऩे और बाइक अपने पास रख लेने की जानकारी दी। कड़ाई से पूछताछ में वह टूट गया और यदुनंदन नगर में रहने वाले 15-15 वर्षीय दो किशोरों के साथ मिलकर आदित्य की हत्या करना स्वीकार कर लिया।

कपड़े व प्लास्टिक में बांधी लाश, आधी रात को पुल से नाला में फेंका
आरोपी के खुलासे के बाद पुलिस ने यदुनंदन नगर से दोनों किशोरों को हिरासत में लिया है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि लाश को तीनों ने पेपर में लपेटनेऔर लाल रंग के कपड़े में बांधा था। तीनों ने लाश को आधी रात को गोकने नाला में फेंकने की योजना बनाई। रात करीब 1 बजे तीनों आदित्य की लाश को बाइक में रखकर यदुनंदन नगर स्थित पुल से गोकने नाला में लाश फेंकने के बाद अपने-अपने घर चले गए थे। खुलासे के बाद पुलिस ने आदित्य की लाश नाले से बरामद की।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned