पहले डराया धमकाया फिर इस वजह से मासूम बच्ची की मुँह दबाकर ले ली जान

पहले डराया धमकाया फिर इस वजह से मासूम बच्ची की मुँह दबाकर ले ली जान

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 06 2018 04:05:06 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

कोनी के ग्राम लोफंदी की घटना:

बिलासपुर. शराब की लत पूरी करने के लिए एक ट्रैक्टर चालक ने 3 साल की मासूम बच्ची से मोबाइल लूट लिया। वह मोबाइल वापस मांगते हुए रोने लगी, तो उसे डराया-धमकाया फिर अपने हाथों से उसका मुंह दबा दिया। दम घुटने से बच्ची की सांसें थम गईं, उसकी मौत हो गई। घटना बुधवार को दोपहर कोनी थानांतर्गत ग्राम लोफंदी में हुई। मांग जब बच्ची को ढूंढती हुई पहुंची तो उसे उसकी लाश मिली। आरोपी भाग रहा था। आक्रोशित ग्रामीणों ने उसे पकडकऱ जमकर पिटाई की। फिर सूचना देकर पुलिस को बुलाया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। कोनी पुलिस के अनुसार, सीपत थानांतर्गत ग्राम कारीछापा निवासी नवरत्न विश्वकर्मा ग्राम लोफंदी में श्यामलाल धु्रव के ईंट भ_े में मजदूरी करता है। अपनी पत्नी उमा, दो बेटी रागिनी (साढ़े 4 साल) और छोटी बेटी रवीना (3) के साथ ईट भ_े के पास ही झोपड़ी बनाकर रहता है। बुधवार को नवरत्न और उसकी पत्नी झोपड़ी से कुछ दूर ईंट भ_े में काम करने गए थे। दोपहर 3 बजे उसकी दोनों बेटियां मोबाइल लेकर घर के बाहर खेल रही थीं। तभी ईंट भ_े में ट्रैक्टर चलाने वाला आरोपी विजय कुमार पिता प्यारेलाल नेताम बच्चियों के पास पहुंचा और उनसे मोबाइल लूटकर जाने लगा। इसी बीच बच्चियों की मां उमा वहां पहुंच गई। बड़ी बेटी रागिनी ने मां को बताया कि मोबाइल विजय लूटकर ले जा रहा है। उमा ने बच्चियों को मोबाइल वापस लेने के लिए उसके पीछे भेजा। दोनों बच्चियां विजय के पास पहुंचकर अपना मोबाइल मांगने लगीं। विजय उन्हें डांटकर भगाने लगा। रागिनी वापस घर की ओर लौट गई लेकिन रवीना मोबाइल लौटाने की जिद करती हुई रोने लगी। इस पर विजय ने उसका मुंह दबा दिया। दम घुटने से रवीना की मौत हो गई। इधर रागिनी ने अपनी मां उमा को बताया कि विजय मोबाइल वापस करने से मना कर रहा है। इस पर उमा अपनी बड़ी बेटी रागिनी को साथ लेकर विजय के पास मोबाइल वापस मांगने पहुंची तो रवीना की लाश जमीन पर पड़ी थी और विजय भागने का प्रयास कर रहा था। उमा के शोर मचाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए, और आरोपी को पकड़ लिया।

आरोपी ससुराल में रहकर चलाता था ट्रैक्टर
आरोपी विजय ग्राम लोफंदी स्थित ससुराल में रहता था। वह मुंगेली जिले के पथरिया थानांतर्गत ग्राम गोइंद्री का रहने वाला है। ईंट भ_े में वह ट्रैक्टर चलाने का काम करता है। आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह शराब आदी है। शराब के लिए पैसे नहीं होने पर उसने बच्चियों से मोबाइल लूटा था।

मासूम बच्ची के हत्यारे को ग्रामीणों ने जमकर पीटा
ग्रामीणों ने आरोपी विजय को पकडऩे के बाद उसकी जमकर पिटाई की। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया। पिटाई के कारण आरोपी को भी चोटें लगी थी। पुलिस ने आरोपी का सिम्स में मुलाहिजा कराया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned