गणेश उत्सव का कोरोना असर, नहीं रख सकेंगे 4 फीट से ऊंची प्रतिमा, जानिए नए नियम

उत्सव के दौरान 4 फीट से ऊंची मूर्ति, 15 फीट से बड़ा पंडाल बनाने पर रोक है। वहीं पंडाल में एक बार में 20 से ज्यादा लोग नहीं होंगे।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 30 Jul 2020, 04:12 PM IST

बिलासपुर. कोरोना काल में गणेश उत्सव को लेकर रायपुर से गाइडलाइन जारी कर दी गई है। वहीं शहर में इसे जारी करने को लेकर कवायद चल रही थी। रायपुर से जारी गाइडलाइन में 26 प्वाइंट हैं। उत्सव के दौरान 4 फीट से ऊंची मूर्ति, 15 फीट से बड़ा पंडाल बनाने पर रोक है। वहीं पंडाल में एक बार में 20 से ज्यादा लोग नहीं होंगे।

दर्शन के लिए आया व्यक्ति अगर संक्रमित होता है तो उसके इलाज में खर्च की जिम्मेदारी आयोजक की होगी। प्रशासन की ओर से मूर्ति की ऊंचाई से लेकर पंडाल तक की साइज का निर्धारण किया गया है। गाइडलाइन का अनुपालन नहीं किए बिना गणेश प्रतिमा स्थापित नहीं की जा सकेगी। आदेश में कहा गया है कि जो भी आयोजक शतों का के उल्लंघन करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ये हैं नियम
* जिला प्रशासन की तरफ से इस बार झांकी की भी अनुमति नहीं दी गई है। मूर्ति का साइज 4 फीट और पंडाल का 15 फीट से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

* पंडाल में कुर्सियां नहीं लगा साथ ही 20 से ज्यादा लोग एक बार में वहां मौजूद नहीं होंगे। यानि दर्शन के लिए केवल 20 को ही अनुमति एक समय पर होगी।

* मूर्ति दर्शन के लिए आने वाले लोगों का भी नाम पता और मोबाइल नंबर लिखना होगा। जिससे संक्रमित मिलने पर उनसे संपर्क किया जा सके।

* पंडाल में सीसीटीवी लगाना होगा। बिना मास्क के मूर्ति दर्शन की अनुमति नहीं होगी। आने व जाने वालों के लिए अलग-अलग व्यवस्था की जाएगी।

* सैनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग, ऑक्सीमीटर, हैंडवॉश, क्यू मैनेजमेंट की व्यवस्था करनी होगी। थर्मल स्क्रीनिंग में बुखार मिलने पर पंडाल में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी।

* पंडाल में दर्शन के लिए आया व्यक्ति अगर संक्रमित होता है तो आयोजकों को उसके इलाज का पूरा खर्च उठाना होगा। इस बार पूजा के दौरान जगराता,

* भंडारा आदि कार्यक्रमों की इजाजत नहीं होगी। पूजा के दौरान प्रसाद व चरणामृत सहित किसी भी चीज को बांटने की मनाही होगी। मूर्ति विसर्जन के लिए सिर्फ एक गाड़ी होगी।

* झांकी की अनुमति नहीं होगी। विसर्जन के लिए सिर्फ 4 लोग ही जा सकेंगे, जो गाड़ी के साथ जाएंगे। मूर्ति स्थापना के लिए निगम की अनुमति लेनी होगी।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned