पत्रिका लगातार: 45 हजार बोरिया यूरिया खाद बेचने वाले दो सहकारी समिति समेत पांच विक्रेताओं को नोटिस

कृषि विभाग की टीम ने पिछले माह जिले के बीस किसानों के यूरिया खाद खरीदने की रेंडम जांच की थी। इसमें 13 किसानों के पास खेती के लिए कोई जमीन नहीं है। इसके बावजूद इन किसानों ने 28 हजार 577 बोरी यूरिया खाद सेवा सहकारी समितियों और निजी विक्रेताओं से क्रय किया था।

By: Karunakant Chaubey

Published: 07 Sep 2020, 11:20 AM IST

बिलासपुर. खेती जमीन नहीं होने और मामूली जमीन रखने वाले किसानों को लगभग 45 हजार यूरिया खाद का विक्रय करने वाले दो सेवा सहकारी समितियों और तीन निजी विक्रेताओं को कृषि विभाग ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इन सभी लोगों को तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है। जिले में खाद के विक्रय की निगरानी रखने के लिए पांच सदस्यीय जिला स्तरीय सतर्कता समिति का गठन किया गया है। 'पत्रिका' ने बुधवार के अंक में इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया ।

कृषि विभाग की टीम ने पिछले माह जिले के बीस किसानों के यूरिया खाद खरीदने की रेंडम जांच की थी। इसमें 13 किसानों के पास खेती के लिए कोई जमीन नहीं है। इसके बावजूद इन किसानों ने 28 हजार 577 बोरी यूरिया खाद सेवा सहकारी समितियों और निजी विक्रेताओं से क्रय किया था। केंद्र सरकार की जिला प्रशासन को भेजी गई चिट्ठी के आधार पर यह जांच की गई थी।

इनको दिया नोटिस

जिले में प्राथमिक सेवा सहकारी समिति बिरकोना एवं प्राथमिक सेवा सहकारी समिति नगोई,तखतपुर के सेल्समैन ने 7322 बोरी यूरिया खाद की खरीदी की थी। इन दोनों सेल्समैन के पास 2.84 एकड़ ही रिकार्ड में खेती की जमीन है। दोनों के सेल्समैन को नोटिस जारी करके तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है। इसके साथ ही तीन अन्य लोगों को नोटिस जारी किया गया है इनमें तखतपुर के अंसारी खाद भंडार, बेलपान के सांई कृषि सेवा केंद्र , बिल्हा हरदी के बीज उत्पादक सहकारी समिति को को नोटिस जारी किया गया है। इनसे भी तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है।

20 लोगों ने खरीदे 44779 बोरी खाद

बीस किसानों ने 44779 बोरी यूरिया खाद का क्रय किया । इनमें से 13 किसानों के पास खेती की कोई जमीन नहीं है। सात किसानों के पास 25.84 एकड़ खेती है और इन किसानों ने 16202 बोरी खाद का क्रय किया ।

सतर्कता समिति गठित

खाद के विक्रय को लेकर जिला स्तरीय सतर्कता समिति का गठन किया है। इस निरीक्षण समिति के प्रमुख सहायक संचालक कृषि आशुतोष श्रीवास्तव को बनाया गया है। टीम में चार अन्य सदस्य शामिल है। इसके साथ ही संबंधित क्षेत्र के एसएडीओ,आरएईओ को शामिल किया गया है।

पांच को नोटिसखाद बेचने वाले पांच संस्थाओं व संस्थानों को नोटिस जारी किया गया है। इन सभी लोगों से तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है। खाद विक्रय की सतत् निगरानी के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

-शंशाक शिंदे, उपसंचालक कृषि,बिलासपुर

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned