scriptOnce a no-confidence motion is passed, an adjournment cannot be given. | एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद नहीं दिया जा सकता स्थगन | Patrika News

एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद नहीं दिया जा सकता स्थगन

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा है कि एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद स्थगन आदेश नहीं दिया जा सकता। हाईकोर्ट के सिंगल बेंच के इस फैसले से मोहतराई की नवनियुक्त सरपंच को राहत मिली है। सरपंच ने अतिरिक्त संभागायुक्त के आदेश को चुनौती दी थी।

बिलासपुर

Published: May 09, 2022 10:24:55 pm

बिलासपुर.छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा है कि एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद स्थगन आदेश नहीं दिया जा सकता। हाईकोर्ट के सिंगल बेंच के इस फैसले से मोहतराई की नवनियुक्त सरपंच को राहत मिली है। सरपंच ने अतिरिक्त संभागायुक्त के आदेश को चुनौती दी थी।
एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद नहीं दिया जा सकता स्थगन
एक बार अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद नहीं दिया जा सकता स्थगन
मामला बिलासपुर जिले की जनपद पंचायत बिल्हा का है। ग्राम पंचायत मोहतराई में सरपंच पद के लिए हुए चुनाव में राजेश्वरी साहू विजयी हुई थी। उसने सरपंच का कामकाज भी संभाल लिया था। वार्डाें में विकास कार्य को लेकर पंचों के साथ विवाद की स्थिति बनी। पंचों ने विकास कार्य में भ्रष्टाचार और वार्डों में विकास कार्य कराने में भेदभाव का आरोप लगाते हुए सरपंच के विरुद्ध कलेक्टर के समक्ष अविश्वास प्रस्ताव के लिए आवेदन प्रस्तुत किया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर ने जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को इस संबंध में निर्देशित किया था। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने अविश्वास प्रस्ताव के लिए 28 जनवरी 2022 की तिथि तय करते हुए इसी दिन पंचायत का सम्मेलन बुलाया। पंचायत के सम्मेलन में सरपंच राजेश्वरी साहू के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया पूरा करने के लिए मतदान की घोषणा की गई। मतदान के बाद परिणाम की घोषणा की गई। जिसमें सरपंच राजेश्वरी साहू विश्वास मत हासिल नहीं कर पाई। अविश्वास प्रस्ताव में पराजित होने के बाद छत्तीसगढ पंचायत राज अधिनियम की धारा 21 के तहत राजेश्वरी साहू को पद से हटा दिया गया। सरपंच के रिक्त पद पर जनपद पंचायत सीईओ ने सात फरवरी 2022 को उत्तमा राव को पदभार ग्रहण करने का आदेश जारी किया। सीईओ के आदेश पर चुनाव में प्रतिद्वंदी रहीं उत्तमा राव ने सरपंच का पदभार ग्रहण कर लिया। निवृतमान सरपंच राजेश्वरी साहू ने अविश्वास प्रस्ताव की कार्रवाई को चुनौती देेते हुए कलेक्टर कोर्ट के समक्ष अपील पेश की। कलेक्टर ने मामला अपर कलेक्टर के कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया। मामले की सुनवाई करते हुए अपर कलेक्टर ने 25 अप्रैल 2022 को अविश्वास प्रस्ताव को सही ठहराते हुए अपील खारिज कर दी थी। पूर्व सरंपच ने इसे आयुक्त के कोर्ट में चुनौती दी थी। आयुक्त ने मामला अपर आयुक्त को भेज दिया था। अपर आयुक्त ने अविश्वास प्रस्ताव की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। अपर आयुक्त के आदेश को चुनौती देते हुए सरपंच उत्तमा राव ने हाईकोर्ट में अपील प्रस्तुत की। मामले की सुनवाई जस्टिस पीपी साहू के सिंगल बेंच में हुई। मामले की सुनवाई के बाद जस्टिस साहू ने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के एक फैसले का हवाला देते हुए कहा कि एक बार अविश्वास प्रस्ताव के पारित होेने के पश्चात स्थगन आदेश नहीं दिया जा सकता।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशानाशुभेंदु अधिकारी का दावा, दिसंबर तक टूट जाएगी TMC, बंगाल में दोहराया जाएगा महाराष्ट्र!Karnataka: BJP में दरार, MLA बसनगौड़ा यतनाल ने कहा- मैं सीएम बना तो पार्टी जीतेगी 150 सीटेंगैंगरेप व परिजनों के हत्यारों की रिहाई पर बोलीं बिलकिस बानो- गुजरात सरकार के इस फैसले ने न्याय के भरोसे को तोड़ाBihar Politics: दागी मंत्रियों को लेकर JDU में बगावत, विधायक बीमा भारती ने मंत्री पर लगाए वसूली और हत्या के आरोपबीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन पर दर्ज होगा रेप का केस, दिल्ली हाईकोर्ट ने दिया आदेश, जानिए क्या है पूरा मामलाJammu Kashmir Election: चुनाव आयोग का बड़ा ऐलान, जम्मू कश्मीर में रह रहे बाहरी लोग भी डाल सकेंगे वोटNIA Raid: जम्मू में कई स्थानों पर एनआईए की छापेमारी, आतंकी मामलों में बड़ा एक्शन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.