पूर्व राष्ट्रपति कलाम के सहयोगी रह चुके साइंटिस्ट से 14 लाख की ऑनलाइन ठगी, लकी ड्रॉ में कार जीतने का दिया झांसा

सकरी थाना प्रभारी रविन्द्र यादव के अनुसार छेदीलाल पटेल पिता अघोरी पटेल (80) हैदराबाद डीआरडीओ से रिटायर्ड साइंस्टिस्ट हैं। वे पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के साथ काम कर चुके हैं। रिटायरमेंट के बाद वे उसलापुर स्थित गेलेक्सी अपार्टमेंट में रह रहे हैं।

By: Karunakant Chaubey

Published: 02 Aug 2020, 05:08 PM IST

बिलासपुर. मिसाइलमैन एपीजे अब्दुल कलाम के साथ काम कर चुके रिटायर्ड साइंटिस्ट को लकी ड्रॉ में कार जीतने का झांसा देकर ठग ने सवा 14 लाख रुपए की ऑनलाइन ठगी कर ली। शिकायत पर पुलिस ने ठग के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

सकरी थाना प्रभारी रविन्द्र यादव के अनुसार छेदीलाल पटेल पिता अघोरी पटेल (80) हैदराबाद डीआरडीओ से रिटायर्ड साइंस्टिस्ट हैं। वे पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के साथ काम कर चुके हैं। रिटायरमेंट के बाद वे उसलापुर स्थित गेलेक्सी अपार्टमेंट में रह रहे हैं। 27 जुलाई को उनके मोबाइल नंबर 9550043976 पर अनजान नंबर 9874334788 से कॉल आया था।

कॉल करने वाले ने अपना नाम नितिन कुमार बताते हुए लकी ड्रॉ में पहला इनाम महिन्द्रा कार एक्सयूवी-500 जीतने की जानकारी दी। उसने बताया कि कार की कीमत सवा 14 लाख रुपए है। कार नहीं लेने पर उन्हें कार की कीमत दी जाएगी। यह राशि उनके खाते में जमा होगी।

छेदीलाल रकम लेने के लिए तैयार हो गए। कॉल करने वाले नितिन नाम के युवक ने उन्हें पैसे वापस करने के लिए 3500 रुपए का रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा करने के लिए कहा। कॉल करने वाले ने रॉकी कुमार नाम के व्यक्ति के खाते का नंबर दिया। छेदीलाल ने रकम ट्रांसफर की, लेकिन ट्रांजेक्शन फेल हो गया। नितिन कुमार के अपने अधिकारी राहुल कुमार (मोबाइल नंबर 9635403332) से बात करने के लिए कहा।

28 जुलाई को राहुल नाम के व्यक्ति ने कॉल कर उनसे इंटरनेट बैंकिंग की आईडी पासवर्ड मांगी। पहले तो छेदीलाल ने मना कर दिया, लेकिन झांसा देकर राहुल ने उनसे आईडी औंर पासवर्ड ले लिया। कुछ देर के बाद अनजान मोबाइल नंबर 8766260530 से उनके मोबाइल पर कॉल आया और मनोज कुमार अग्रवाल नाम बताते हुए कॉल करने वाले ने राहुल की तबीयत खराब होने और केस को देखने की बात कही।

पहली बार में 5 लाख, 500 रुपए किया ट्रांसफर

कॉल करने वाले ने नेट बैंकिंग का पासवर्ड लेने के बाद छेदीलाल के खाते से पहली बार में 5 लाख, 500 रुपए ट्रांसफर किए। उन्होंने मनोज को कॉल कर बताया कि उनके खाते से रकम निकाली गई है। मनोज नाम के युवक ने उन्हें गलती से रकम निकलने की जानकारी दी। उसने 29 जुलाई को कार की रकम साढ़े 14 लाख का भुगतान करने की जानकारी दी। इसके बाद दोबारा कॉल कर मनोज ने कार की रकम 12 लाख रुपए राहुल के खाते में जमा होने की जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने मेल आईडी खोलकर जांच की तो पता चला कि ठग ने उनके खाते से सवा 14 लाख रुपए निकाल लिए थे।

रकम वापस देने मांगे डेढ़ लाख

खाते से रकम पार होने के बाद छेदीलाल के मोबाइल पर अनजान नंबर 7044414802 से कॉल आया। इस बार आलोक कुमार सिंह नाम बताते हुए कॉल करने वाले ने काम होने की बात पूछी। उन्होंने बताया कि उनके खाते से सवा

14 लाख रुपए निकाल लिए जाने की बात कही। आलोक नाम के व्यक्ति ने उन्हें 75 हजार रुपए जमा करने पर निकाली गई रकम वापस खाते में ट्रांसफर करने की बात कही। साथ ही पैसा मिलने के बाद फिर से 75 हजार रुपए का भुगतान करने की बात कही। आलोक की बातें सुनने के बाद उन्हें ठगी का शिकार होने का अहसास हुआ। उन्होंने शिकायत थाने में दर्ज कराई

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned