आतिशबाजी के साथ निकली गजानन महाराज की पालकी यात्रा, जगह-जगह भक्तों ने किया स्वागत

गजानन महाराज की चरित्र भजन का हुआ आयोजन

बिलासपुर. महाराष्ट्र मंडल द्वारा संत गजानन महाराज की प्रगट उत्सव धूमधाम व भक्तिमय वातावरण में मनाया जा रहा है। प्रगट उत्सव के तीसरे दिन संत गजानन महाराज की पालकी यात्रा निकाली गई। वहीं शाम 4 बजे से रेणुका भजन मंडल द्वारा महाराज के चरित्र का बखान करते हुए भजन की प्रस्तुति दी गई। महाराष्ट्र मंडल द्वारा संत गजानन महाराज जी की प्रगट उत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। रेणुका भजन मंडल के सदस्यों ने शुक्रवार को शाम चार बजे से गजानन महाराज की चरित्र भजन की प्रस्तुति दी गई। जिसे सुनकर उपस्थित श्रद्धालू भाव-विभोर होकर झूमते रहे। भजन पश्चात शाम 5.30 बजे गजानन महाराज की पालकी यात्रा का आयोजन किया गया। जो महाराष्ट्र मंडल से परिजात कॉलोनी, कस्तूरबा नगर, अर्चना विहार, ओम गार्डन से होते हुए पारिजात एक्सटेंशन में पहुंची। जहां भक्तों द्वारा महाराज का स्वागत करते हुए पालकी की आरती उतारी। इसके बाद पालकी पारिजात कॉलोनी होती हुई वापस महाराष्ट्र मंडल पहुंची।

आतिशबाजी से हुई पालकी यात्रा का स्वागत
गजानन महाराज की पालकी यात्रा का जगह-जगह भव्य स्वागत किया। पारिजात कॉलोनी पहुंचते ही सांई माऊली परिवार के सदस्यों ने आतिशबाजी और ढोल-ताशे के साथ गजानन महाराज जी का स्वागत किया। उपस्थित श्रद्धालूओं ने पालकी की पूजा-अर्चना कर आरती उतारी तथा अपने परिवार के उज्जवल भविष्य की कामाना। इस दौरान सदस्यों ने उपस्थित लोगों को पेाहा, चना व जलेबी का प्रसाद वितरित किया।

ढोल-ताशे की धुन पर झूमते रहे श्रद्धालू
गजानन महाराज के प्रगट उत्सव को धूमधाम से मनाया गया। ढोल-ताशे के साथ पालकी यात्रा निकाली गई। ढोल-ताशे की धुन पर श्रद्धालू झूमते नजर आए। पारंपरिक वस्त्र धारण कर पालकी को अपने कंधे में उठाएं हुए श्रद्धालू गजानन महाराज की जयकारा लगाते रहे। इस पालकी यात्रा को देखने बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Amil Shrivas Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned