पालकों ने बर्जेश स्कूल के खिलाफ खोला मोर्चा, मनमाने फीस वृद्धि का लगाया आरोप

Amil Shrivas

Publish: Oct, 13 2017 11:09:51 (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
पालकों ने बर्जेश स्कूल के खिलाफ खोला मोर्चा, मनमाने फीस वृद्धि का लगाया आरोप

जांच न होने के कारण शालाओं में गंभीर आर्थिक अनियमितताएं हो रही है।

बिलासपुर. बर्जेश स्कूल प्रबंधन द्वारा बच्चों से एडमिशन फीस के नाम पर और फीस वृद्धि की शिकायत जिला शिक्षा विभाग से करने के बावजूद आज तक कोई कार्रवाई न किए जाने से आक्रोशित पालकों ने गुरुवार को कलक्टोरेट में में प्रदर्शन किया और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ शिकायत की है। पालकों ने कहा कि बर्जेस अंग्रेजी उमा शाला बिलासपुर में अनाधिकृत रूप से काबिज छग डायोसिस बोर्ड ऑफ एजुकेशन रायपुर की आर्थिक गड़बड़ी, पिछले तीन सालों में बेतहाशा फीस वृद्धि और स्कूल प्रबंधन द्वारा छात्रों व उनके पालकों को प्रताडि़त किया जा रहा है। स्कूल प्रबंधन ने भी अपनी सफाई देते हुए कुछ पालकों द्वारा स्कूल को बदनाम करने का आरोप लगाया गया है। पालकों ने कलक्टर से की गई शिकायत में बताया कि सीडीबीई में शालाओं की संबद्धता का कोई भी दस्तावेज, जो रजिस्ट्रार फर्म एवं सोसायटी रायपुर द्वारा जारी किया गया हो, एेसे दस्तावेजों की मांग छग माध्यमिक शिक्षा मण्डल रायपुर के उपसचिव द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर से मांगा गया, लेकिन आज तक बिलासपुर जिले में स्थित शालाओं की जांच जिला शिक्षा कार्यालय द्वारा नहीं की गई। जांच न होने के कारण शालाओं में गंभीर आर्थिक अनियमितताएं हो रही है। यही नहीं हजारों छात्रों के भविष्य सेभी खिलवाड़ किया जा रहा है।

READ MORE : 24 मेडिकल स्टोर हुए सील, हड़बड़ाया जिला औषधि संघ पहुंचा कलेक्टोरेट

पालकों ने अनाधिकृत रूप से स्कूल का संचालन करने वाली सोसायटी छग डायोसिस बोर्ड ऑफ एजुकेशन रायपुर एवं उनके पदाधिकारी राबर्ट अली, बिलसन लाल एवं प्रभारी प्राचार्य जेसिका नाथ पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।
बदनाम करने की साजिश : बर्जेश स्कूल प्रबंधन ने गुरुवार को प्रेसनोट जारी करते हुए कुछ पालकों द्वारा स्कूल को बदनाम करने का आरोप लगाया। स्कूल के वाइस प्रिंसिपल बिल्सन लाल व जे नाथ ने कहा कि स्कूल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा मण्डल दिल्ली द्वारा मान्यता प्राप्त है। यह संस्था राष्ट्रीय अल्प संख्यक शैक्षणिक आयोग दिल्ली द्वारा मान्यता प्राप्त अल्प संख्यक समुदाय द्वारा संचालित है। छग राज्य विभाजन पूर्व इसका संचालन जबलपुर डायोसिस के तहत जबलपुर डायोसिस बोर्ड ऑफ एजुकेशन सीएनआई द्वारा किया जा रहा था। विभाजन के बाद यह छग डायोसिस बोर्ड ऑफ एजुकेशन का गठन हुआ, जिसका पंजीयन छग राज्य फर्म एण्ड सोसायटी रायपुर में विधिवत कराया गया है। कुछ पालकों द्वारा जानबूझकर संस्था को बदनाम किया जा रहा है।

READ MORE : राजा रघुराज सिंह स्टेडियम लेगा अंतरराष्ट्रीय ग्राउंड का रुप

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned