नौ दिनों तक ताप से तपते रहे शहर के लोग अब मानसून के बूंदों का बेसब्री से इंतजार

नौतपा के अंतिम दिन तेज धूप और उमस भरी गर्मी के कहर से लोगों की व्याकुलता काफी बढ़ गई थी।

By: Murari Soni

Published: 03 Jun 2019, 11:26 AM IST

बिलासपुर. नौतपा के अंतिम दिन तेज धूप और उमस भरी गर्मी के कहर से लोगों की व्याकुलता काफी बढ़ गई थी। आलम यह था कि शहर की सड़कें पूरी तरह सूनी हो गई थी। न्यायाधानी सहित आसपास के क्षेत्रों में गर्मी का जबरदस्त प्रभाव रहा। वहीं नवतपा के अंतिम दिन यानि रविवार को दोपहर बाद बारिश होने से लोगों को राहत मिली थी, लेकिन शाम होते ही उमस ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी। इस दौरान राज्य के कई स्थानों में 1 सेमी से कम वर्षा दर्ज की गई है।
नौतपा के नौ दिन की बात करें तो हर दिन गर्मी व बेचैनी का आलम रहा।

हालांकि बीच-बीच में आंधी व बारिश की स्थिति रही पर ये कम ही सुकून दे सके। बीच के कुछ दिनों में दोपहर तक तेज गर्मी व शाम को हल्की बारिश दर्ज की गई। हद तो तब हो गई जब पारा 47 डिग्री तक जा पहुंचा। रविवार को नौतपा के अंतिम दिन बारिश कम होने के कारण शाम होते तक लोग उमस से काफी परेशान हुए। विभिन्न मौसम वेबसाइट के अनुसार नौतपा के अंतिम दिन शहर का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अभी कुछ दिनों तक हल्की बारिश का अनुमान मौसम विभाग की ओर से लगाया जा रहा है। इसके बाद मॉनसून के आने की बात कही जा रही है।
इन नौ दिनों तक सड़कें रही सूनीं
नौतपा के नौ दिनों में तेज धूप और गर्मी से लोगों को राहत नहीं मिली। धूप अधिक होने के कारण लोग घर में ही दुबके रहे। दोपहर में बारिश होने के बाद वातावरण में ठंडकता घूल गई। गर्मी से राहत पाने लोग घर से बाहर निकले। शहर के प्रमुख बाजारों में काफी भीड़ जमा हो गई। वहीं पार्क और उद्यानों में भी लोग चहलकदमी करते नजर आए।
घटता-बढ़ता रहा है नौतपा में तापमान
25 मई को नवतपा की शुरुआत हुई। सूरज ने पहले ही दिन से कहर बरपाना शुरू कर दिया था। 28 मई को तेज आंधी और बारिश के कारण तापमान में जरूर गिरावट दर्ज की गई, लेकिन उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत नहीं मिली। नवतपा के पहले और अंतिम दिन तापमान 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Show More
Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned