सामाजिक परिवर्तन में मुख्य भूमिका निभाएं अधिवक्ता-सीजे राधाकृष्णन

आल इंडिया लॉयर्स यूनियन के अखिल भारतीय महासचिव सोमदत्त शर्मा ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे ।

By: Amil Shrivas

Published: 09 Dec 2017, 12:42 PM IST

बिलासपुर . आजादी की लड़ाई में अधिवक्ताओं की भूमिका महत्वपूर्ण थी, उनके अथक परिश्रम एवं बलिदान का ही फल है कि आज हम आजाद देश में सांस ले रहे हैं। लेकिन आज भी समाज में दलितों, पीडि़तों एवं शोषितों को न्याय दिलाने में अधिवक्ताओं की भूमिका महत्वपूर्ण होने वाली है। आएं शपथ लें कि सभी जरूरतमंदों को न्याय दिलानें में हम पीछे नहीं रहेंगे। हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस टीबी राधाकृष्णन ने ये बातें आल इंडिया लॉयर्स यू्िनयन द्वारा आयोजित सामाजिक परिवर्तन में अधिवक्ताओं की भूमिका पर आयोजित सेमिनार में कहीं। उन्होंने कहा कि अधिवक्ता की भूमिका समाज में नेतृत्वकारी की होती है, इसलिए समाज सही दिशा में जाए इसकी देखरेख का जिम्मा अधिवक्ता उठाएं, साथ ही न्याय तक सभी की पहुंच सुलभ हो सके, इसके लिए जी-जान से प्रयत्न करें। आल इंडिया लॉयर्स यूनियन के अखिल भारतीय महासचिव सोमदत्त शर्मा ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे तथा अधिवक्ताओं की समाजिक जीवन में महत्ती भूमिका पर प्रकाश डाला। सीवी रमन के कुलपति संतोष चौबे ने अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अलग-अलग कानूनों की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाने की बड़ी भूमिका आप पर है, इसमें यूनियन को भी बड़ी भूमिका निभानी है।

स्व. लखीराम आडिटोरियम में 7 दिसंबर को ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन की राज्य स्तरीय सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस अवसर पर न्यायिक व्यवस्था तथा अधिवक्ताओं की समस्याओं पर गहन विचार विमर्श हुआ। प्रदेश के लिए एक नई कार्यकारणी का गठन किया गया, जिसमें 30 सदस्यीय समिति का चयन हुआ। समिति में एचएन श्रीवास्तव को अध्यक्ष, संदीप द्विवेदी को कार्यकारी अध्यक्ष, प्रभाकर सिंह चंदेल को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, सैयद शौकत अली, रजनीश सिंह एवं शालिनी गेरा को महासचिव एवं विजय स्वर्णकार को कोषाध्यक्ष चुना गया। कार्यकारणी सदस्यों में अरुण शुक्ला, हरीश यादव, राकेश पांडेय, शाकिर कुरैशी, भरत लूनिया, संदीप सिंह, रजनी सोरेन, मौहन साव, ईशा खंडेलवाल, आनंद मोहन तिवारी, मोतीलाल कुर्रे, मनोज सिंह, मोहन गिरि, सर्मिष्ष्ठी एवं शिशिर का चयन किया गया। सेमिनार की अध्यक्षता राज्य विधिक परिषद के अध्यक्ष प्रभाकर सिंह चंदेल ने की। इस अवसर पर सीयू की कुलपति अंजिला गुप्ता, दिल्ली यूनियन के महासचिव अनिल चौहान, प्रदेश अध्यक्ष एसएन श्रीवास्तव, महासचिव शौकत अली, अनिल तावड़कर समेत बड़ी संख्या में अधिवक्तागण उपस्थित थे। आभार प्रदर्शन प्रांतीय सचिव रजनीश सिंह चंदेल ने किया।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned