हत्यारे को पकडऩे पुलिस ने गांव में डाला डेरा

पुलिस अनुमान लगा रही है कि हत्यारा मृतक से पहले से परिचित था साथ ही उसे दुकान की भौगोलिक स्थिति की जानकारी थी।

By: Amil Shrivas

Published: 25 Apr 2018, 08:02 AM IST

बिलासपुर . सिरगिट्टी थानांतर्गत ग्राम हरदीकला में फैक्ट्री संचालक की हत्या के मामले में आरोपियों को पकडऩे पुलिस ने गांव में डेरा डाल दिया है। वहीं रतनपुर नवापारा में युवक की हत्या की पुल के नीचे शव फेंकने के मामले में पुलिस मृतक की पहचान करने थानो में दर्ज गुमशुदगी के रिकार्ड खंगाल रही है। दो दिनों के बाद भी पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है। सिरगिट्टी थानांतर्गत ग्राम हरदीकला में किराना दुकान व फैक्ट्री संचालक जगदीश कौशिक पिता अनाथराम कौशिक (57) की दुकान की रखवाली करते सोते समय हत्यारे ने धारदार हथियार से सिर पर हमला करने के बाद चोर ने दुकान का ताला तोड़कर गल्ले से नकद 40 हजार पार कर दिया था। दूसरे दिन जगदीश के परिजनों ने उसे उपचार के लिए अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई थी। जांच करने पहुंची पुलिस को दुकान के पास छिनी और हथौड़ी मिली थी। आरोपी तक पहुंचने पुलिस ने सर्च डॉग को बुलवाया था, लेकिन डॉग भी खेत की ओर जाने के बाद भटग गया था। पुलिस अनुमान लगा रही है कि हत्यारा मृतक से पहले से परिचित था साथ ही उसे दुकान की भौगोलिक स्थिति की जानकारी थी। उसे पता था कि मृतक रात में दुकान के सामने रखवाली करते सो जाता था। पुलिस ने गांव में डेरा डाल दिया है। पुलिस गांव में देर रात तक घूमने वाले संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।
रिकार्ड खंगाल रही पुलिस : ग्राम नवापारा में सोमवार सुबह पुल के नीचे युवक की हत्या कर लाश फेकने के मामले में पुलिस को सुराग नहीं मिला है। मृतक की पहचान करने पुलिस ने रतनपुर के करीब 25 गावों में पुलिस कर्मियों को भेजा है। वहीं मृतक की पहचान के लिए जिले के थानों में दर्ज गुमशुदगी के रिकार्ड पुलिस खंगाल रही है। मृतक के दाहिने हाथ में अंग्रेजी भाषा में प्रेम लिखा था और कलाई में उसने पीतल का कड़ा पहना था। रस्सी से गला घोंटकर हत्यारे ने मौत के घाट उतारा था। 48 घंटे बाद भी मृतक की पहचान नहीं हुई है।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned