पोस्ट कोविड लक्षण वाले मरीजों को अब जिला अस्पताल में भी मिलेगा इलाज, जल्द शुरू होगी पोस्ट कोविड ओपीडी

जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. सीबी मिश्रा ने बताया, कोविड-19 से ठीक होने के बाद कई मरीज ऐसे हैं जिन्हें थकान, सांस लेने में परेशानी, चक्कर आना, बेहोशी, हल्का बुख़ार, जोड़ों में दर्द उदासी और मानसिक तनाव जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं। कई लोगों में स्वाद का ना आना और गले में खऱाश की दिक़्क़त भी होती है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 26 Nov 2020, 08:06 PM IST

बिलासपुर. कोरोना संक्रमण के बाद ठीक हुए लोगों को दोबारा बीमार पडऩे पर बेहतर इलाज देने के लिए सिम्स के बाद अब जिला अस्पताल में भी व्यवस्था की जायेगी। जिला अस्पताल में जल्द ही पोस्ट कोविड ओपीडी की सुविधा शुरू होगी। इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं। अभी तक पोस्ट कोविड ओपीडी की सुविधा सिम्स अस्पताल में ही उपलब्ध थी ।

जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. सीबी मिश्रा ने बताया, कोविड-19 से ठीक होने के बाद कई मरीज ऐसे हैं जिन्हें थकान, सांस लेने में परेशानी, चक्कर आना, बेहोशी, हल्का बुख़ार, जोड़ों में दर्द उदासी और मानसिक तनाव जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं। कई लोगों में स्वाद का ना आना और गले में खऱाश की दिक़्क़त भी होती है।

जिस मरीज़ में कोविड का संक्रमण जितना अधिक होता है, उतने ज़्यादा लक्षण उसमें ठीक होने के बाद देखने को मिलते हैं। ऐसे मरीजों के उपचार के लिए सिम्स मेडिकल कॉलेज में पोस्ट कोविड ओपीडी शुरू की गई थी। मरीजों का दवाब व दिन पर दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ते देख जिला अस्पताल में भी पोस्ट कोविड ओपीडी शुरू करने की तैयारी की जा रही है।

इस ओपीडी में एमडी मेडिसिन से लेकर चेस्ट एंड टीबी विशेषज्ञ, फिजियोथेरेपिस्ट व मानसिक स्वास्थ्य हेतु साइकॉलजिस्ट जैसे चिकित्सकों की ड्यूटी रहेगी। यह ओपीडी केवल उन मरीजों के लिए बनाई जा रही है, जो कोरोना संक्रमण को मात देकर एक बार ठीक हो चुके हैं, लेकिन पोस्ट कोविड प्रभाव के कारण उनमे पुन: कुछ लक्षण सामने आ रहे हैं।

 

एंटीजन एम्यून सिस्टम से होता है बदलाव कोरोना की बीमारी ठीक होने पर भी ऐसे लक्षण इसलिये दिखाई पड़ते हैं क्योंकि वायरस से लडऩे के लिए शरीर में बने एंटीजन इम्यून सिस्टम में इस तरह के बदलाव कर देते हैं, जिससे इम्यून सिस्टम अति प्रतिक्रिया करने लगता है। इसी कारण बुख़ार, बदन दर्द और अन्य समस्याएं होने लगती हैं।

समस्या होने पर तुरंत करें डॉक्टर से संपर्क एक बार कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद अपने शरीर का विशेष ध्यान रखें। सबसे पहले अपने इम्यून सिस्टम पर काम करें। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और अपने आस पास लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करें। अगर थकान, सांस लेने में परेशानी, चक्कर आना, बेहोशी, हल्का बुख़ार, जोड़ों में दर्द उदासी और मानसिक तनाव जैसे लक्षण सामने आ रहे हैं तो इन बातों के नजरअंदाज ना करें, तुंरत डॉक्टर से संपर्क करें।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned