चुनावी युद्ध की तैयारी, कांग्रेस ने अपनी फौज में पुराने अनुभवियों को बनाया नया कमांडर

चुनावी युद्ध की तैयारी, कांग्रेस ने अपनी फौज में पुराने अनुभवियों को बनाया नया कमांडर

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 16 2018 01:42:03 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

बिलासपुर से 49 फॉर्म दावेदारी के आए हैं, जिनमें कई दिग्गज भी हैं।

बिलासपुर. चुनावी लड़ाई के लिए कांग्रेस ने प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा कर चुनावी फौज तैयार की है। शनिवार को कार्यकर्ताओं की लंबी सूची जारी की गई। इसमें कुछ वरिष्ठ नेताओं को शामिल कर प्रतिद्वंदी को झटका दिया गया है। वहीं कुछ ऐसे नेता को भी शामिल किया गया है जो संगठन के बड़े पद जाने की लालसा पाले हुए थे लेकिन उनको मौका नहीं मिल पाया था। इसलिए वे नाराज चल रहे थे। उनको भी कार्यकारिणी में शामिल कर शांत करने की कोशिश की गई है। सूची में ऐसे नेताओं का नाम है जो विधान सभा चुनाव लडऩे के लिए दावेदारी कर रहे हैं। अब यह सवाल उठने लगा है कि पदाधिकारी बनाने के बाद उनको टिकट से वंचित तो नहीं कर दिया जाएगा। कोरबा, कोरिया, जांजगीर, रायगढ़, अम्बिकापुर सहित अन्य जगहों के बड़े नेताओं को कार्यकारिणी में शामिल किया गया है।

ठंडे पड़े अरमान : कांग्रेस ने विधानसभा स्तर के बड़े नेताओं को मंत्रियों को घेरने की जिम्मेदारी कुछ इस तरह से दी कि कइयों के अरमान ठंडे हो गए। दरअसल ये सभी अपने क्षेत्रों से विधानसभा की दावेदारी कर रहे हैं, ऐसे में इन क्षेत्रों के दूसरे दावेदारों के माथे पर सलवटें पडऩी स्वाभाविक हैं। राजेन्द्र शुक्ला बिल्हा से दावेदार हैं, हाथ मे धरमलाल कौशिक की तस्वीर है। यहां से अम्बालिका साहू, जागृति वर्मा भी सक्रिय हैं। दूसरे नम्बर पर रायपुर मेयर प्रमोद दुबे हैं। प्रमोद पश्चिम से दावेदारी कर रहे हैं, जबकि विकास उपाध्याय पिछली बार मूणत को कड़ी टक्कर देकर सीट सुरक्षित मानकर चल रहे थे। तीसरे नम्बर पर डॉ राकेश गुप्ता हैं जो कुरूद से ताल ठोक रहे हैं। शैलेष नितिन त्रिवेदी डॉ. रमन के चित्र के साथ हैं। जबकि देवेंद्र यादव ने मंत्री प्रेमप्रकाश पांडे का चित्र ले रखा है। अब जरा कोने में देखिए अटल श्रीवास्तव। ये अमर अग्रवाल के चित्र के साथ हैं। जबकि बिलासपुर से 49 फॉर्म दावेदारी के आए हैं, जिनमें कई दिग्गज भी हैं।

अटल के साथ अब वाणी : पहले प्रदेश महामंत्री के पद पर अकेले अटल श्रीवास्तव थे लेकिन अब कांग्रेस की दिग्गज महिला नेत्री वाणीराव भी प्रदेश महामंत्री हैं। अटल और वाणी के बीच लंबे समय से पटरी नहीं बैठ रही है। अटल बिलासपु विधान सभा से टिकट की मांग रहे हैं। इससे पहले वाणीराव महापौर रह चुकी है और बिलासपुर विधान सभा से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुकीं। हालांकि 15 हजार वोट से उनकी हार भी हुई। इस टीम में पूर्व युकां प्रदेश अध्यक्ष उत्तम वासुदेव को भी शामिल किया गया है।
कहीं राजेन्द्र को मैनेज करने की कोशित तो नहीं : संयुक्त महामंत्री नया पद बनाकर पूर्व जिलाध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला को इस पद पर नियुक्ति दी गई है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी इस फरमान पर कि जो संगठन के पद पर हैं, वे चुनाव नहीं लड़ सकते, राजेन्द्र शुक्ला ने सबसे पहले जिलाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया था। अब बिल्हा विधानसभा में टिकट को लेकर उठापटक शुरु हो गई है। वहीं मस्तूरी क्षेत्र से दावेदार राजकुमार अंचल को भी उनके साथ ही संयुक्त महामंत्री बनाया गया है।

एसपी चतुर्वेदी को भी जगह : प्रदेश सचिव पिछले कार्यकाल में 6 थे, उनकी संख्या बढ़ाकर 13 कर ती गई है। इनमें से प्रमोद नायक ने जिलाध्यक्ष पद के लिए जोरआजमाइश की थी, लेकिन ऐन वक्त पर विजय केशरवानी के नाम की घोषणा कर दी गई। अर्जुन तिवारी, आशीष सिंह, महेश दुबे, पंकज सिंह, रामशरण यादव, विवेक बाजपेयी, बेलतरा से दावेदार अजय सिंह, अरुण चौहान, बिलासपुर से दावेदार एस.पी.चतुर्वेदी, प्रमोद नायक , रविन्द्र सिंह, रवि श्रीवास, ओमती पेंद्रो को भी शामिल किया गया है।

संयुक्त सचिव : गुलाब सिंह राज, कौशिलया उटावी।
सदस्य कार्य समिति : कृष्ण कुमार यादव, शेख गफ्फार।
स्थायी आमंत्रित : करुणा शुक्ला, पूर्व सांसद कमला मनहर, इंग्रिड मैक्लाउड, खेलनराम जांगडे, रामाधार कश्यप।
विशेष आमंत्रित : राजेन्द्र चावला, अशोक अग्रवाल, राधे भूत, राजेश पाण्डेय, विजय पाण्डेय।
अम्बिकापुर : पूर्व मंत्री प्रेमसाय सिंह, सफी अहमद, सभापति नगर निगम सभी अहमद कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता रह चुके।
जशपुर : शेखर त्रिपाठी को प्रदेश कांग्रेस कमेटी का सचिव बनाया गया है। वे पहले से इसी पद पर हैं।
कोरबा : कोरबा के पूर्व विधायक बोधराम कवंर को उपाध्यक्ष बनाया गया है। पूर्व जिलाध्यक्ष ग्रामीण हरीश परसाई संयुक्त महासचिव।
कोरिया : प्रदेश सचिव योगेश शुक्ला ,वेदांती तिवारी ,संयुक्त प्रदेश महासचिव प्रभा पटेल। विशेष आमंत्रित सदस्य महापौर के डेमरु रेड्डी, जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती मरकाम और यवत कुमार सिंह।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned