सरकार को लिखित में देंगे प्राइवेट स्कूल संचालक, हमने परिजनों पर नहीं डाला फीस बसूलने का दबाब न डालेंगे

लॉक डाउन में निजी स्कूलों के द्वारा अभिभावकों को फीस के लिए दबाव बनाया जा रहा है। लगातार मिल रही शिकायत को देखते हुए राज्य शासन के निर्देश पर लोक शिक्षण संचालनालय ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किया है।

By:

Published: 23 Apr 2020, 06:47 PM IST


बिलासपुर. लॉक डाउन में निजी स्कूलों के द्वारा अभिभावकों को फिस के लिए दबाव बनाया जा रहा है। लगातार मिल रही शिकायत को देखते हुए राज्य शासन के निर्देश पर लोक शिक्षण संचालनालय ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किया है। आदेश में सभी निजी स्कूलों से लिखित में प्रमाणपत्र जारी कर अभिभावकों फिस नहीं मांगी गई है। यह प्रमाणित करने प्रमाणपत्र लेने व राज्य शासन को भोजने का कहा गया है।
कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश में लॉक डाउन की घोषण करने के साथ ही प्रदेश सरकार ने सभी निजी स्कूलों को आदेश जारी किया था कि लॉक डाउन की अवधि के दौरान अध्ययनरत छात्रों के अभिभावकों से फीस को लेकर दबाव नहीं बनाया जाएगा। छत्तीसगढ़ शासन का आदेश होने के बाद भी कुछ निजी स्कूलों के द्वारा यूपीआई के माध्यम से पैमेंट करने अभिभावकों को मानसिक रुप से परेशान किया जा रहा था। मामले की शिकायत होने पर छत्तीसगढ़ सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किया है। आदेश मिलने के बाद से ही जिले के सभी स्कूलों को फार्मेट जारी करते हुए 24 घंटे के अंदर अभिभावकों पर फिस पटाने को लेकर किसी भी प्रकार का कोई दबाव नहीं बनाया है यह स्पष्ट करने को कहा गया है।
निजी स्कूलों द्वारा जारी प्रमाणपत्र रायपुर लोक शिक्षण कार्यायल भेजने आदेश
लोक शिक्षण संचालनालय ने जारी आदेश में सभी निजी स्कूलों के द्वारा स्पष्ट फिस न मांगने संबंधी दबाव न बनाने जारी किया गया प्रमाणपत्र को रायपुर संचालनालय भेजने की कार्रवाई भी सुनिश्चित करने की बात कही गई है।
लोक शिक्षण संचालनालय से आदेश आने के बाद सभी निजी स्कूलों को वाट्सअप व अन्य सोशल एप व फोन के माध्यम से सूचना दी गई है। आदेश का पालन कराया जा रहा है।
अशोक भार्गव, जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned