उपचुनाव: कोविड प्रभावित 80 पार एवं दिव्यांगों के लिए शुरू हुआ डाक मत डालने का सिलसिला

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मरवाही विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 के लिए आदित्य कमलाकर सोमकुंवर (आईआरएस ) को व्यय प्रेक्षक नियुक्त किया गया है। व्यय प्रेक्षक प्रतिदिन शाम 5 बजे से 6 बजे तक आमजन से मुलाकात पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह गौरेला कक्ष क्रमांक 3 में उपलब्ध रहेंगे।

By: Karunakant Chaubey

Published: 23 Oct 2020, 08:11 PM IST

बिलासपुर. मरवाही विधानसभा उपचुनाव में ऐसे मतदाताओं जो कोविड संक्रमण से प्रभावित है जिनकी उम्र 80 वर्ष से अधिक हो गई है, दिव्यांग है, इन तीनों श्रेणियों के मतदाताओं के लिए गुरुवार से तीन दिनों तक डाक मतपत्रों की व्यवस्था की गई है। चुनाव के दौरान मतदाताओं को प्रलोभन देने वाले प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव व्यय पे्रक्षक से प्रतिदिन शाम को शिकायत करने के लिए एक घंटे का समय निर्धारित किया गया है।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मरवाही विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 के लिए आदित्य कमलाकर सोमकुंवर (आईआरएस ) को व्यय प्रेक्षक नियुक्त किया गया है। व्यय प्रेक्षक प्रतिदिन शाम 5 बजे से 6 बजे तक आमजन से मुलाकात पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह गौरेला कक्ष क्रमांक 3 में उपलब्ध रहेंगे। व्यय प्रेक्षक आदित्य कमलाकर सोमकुंवर का स्थानीय मोबाइल नम्बर 7389842598 है।

चुनाव में तीन डाक्टर और एक बायो टेक्नोलॉजी में पीजी हैं उम्मीदवार, किसी एक के सर पर सजेगा जीता का ताज

बुधवार से वे आम मतदाताओं की शिकायतें सुनने लगे हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी डोमन सिंह ने बताया है कि मरवाही उपचुनाव में प्रत्याशियों द्वारा किए गए व्यय से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत के लिए व्यय प्रेक्षक से पीडब्लूडी विश्राम गृह गौरेला में निर्धारित अवधि पर मिल सकते हैं एवं उनके मोबाइल पर संपर्क कर सकते हैं।

डाक मतपत्र वितरण,डाक मतपत्र से मतदान 24 तक

80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाता और शारीरिक नि:शक्तता वाले मतदाता एवं कोविड 19 से प्रभावित मतदाताओं को डाक मतमत्र के द्वारा मतदान की सुविधा दी गई है। वरिष्ठ नागरिक (80 वर्ष से अधिक आयु ),दिव्यांग,कोविड19 से प्रभावित मतदाताओं को डाक मतपत्र वितरण,डाक मतपत्र से मतदान एवं डाकमतपत्र संग्रहण का कार्य गुरु वार से शुरू किया गया है,यह शनिवार तक इस हेतु विशेष रूप से गठित मतदान दलों के द्वारा किया जाएगा। प्रत्येक टीम में 2 मतदान अधिकारी,1 पुलिस अधिकारी व 1 वीडियोग्राफर शामिल है। इस पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जा रही है।

ये भी पढ़ें: चुनावी सभा में भीड़ बढ़ाकर परोस रहे कोरोना, प्रभावशाली नेताओं के सामने प्रशासन नतमस्तक

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned